breaking news New

सिमगा पुलिस ने 12 घंटे के भीतर हत्या के आरोपियों को धरदबोचा, आरोपी पुत्र पिता व चाचा गिरफ्तार

सिमगा पुलिस ने 12 घंटे के भीतर हत्या के आरोपियों को धरदबोचा, आरोपी पुत्र पिता व चाचा गिरफ्तार


बलौदाबाजार हेमन्त मिश्रा

      सिमगा।   पुलिस ने हत्या के महज 12 घंटे के भीतर त्वरित कार्यवाही करते हुए तीनो आरोपियों को गिरफ्तार करने मे सफलता पाई । सिमगा थाना के वार्ड क्रमांक 14 मे पुरानी रंजिश को लेकर लडाई हुई जिसमे युवक हरीश पर चाकु से ताबड़तोड़ हमला कर पुत्र पिता व चाचा ने मौत के नींद सुला दिया।  वही हरीश को बचाने आये दोस्त प्रीतम विश्वकर्मा पर भी आरोपियों ने चाकू से हमलाकर मौत के घाट उतार दिया।

घटना के संबंध मे सिमगा थानाप्रभारी पुरूषोत्तम कुर्रे ने बतायाकि घटना बीती रात्रि लगभग 9.30 बजे के आसपास की है जब मृतक हरीश किसी पुरानी बात को लेकर धरम को कनपटी पर मार दिया जिससे घायल  होकर आरोपी धरम डाण्डे अपने घर जाकर पिता व पुत्र को घटना की जानकारी दी जिसपर तीनो आक्रोशित होकर घटनास्थल पहुंचे वही धरम अपने साथ बटनदार चाकू  लेकर आया और हरीश से विवाद हुआ जिसपर पिता व चाचा ने मृतक को पकड़ लिया तथा धरम ने चाकू से पेट कमर व अन्य स्थानों पर संघातिक वार कर घायल कर  दिया !

वही बचाव करने आये हरीश के दोस्त प्रीतम  को भी चाकु से ताबड़तोड़ वार कर घायल कर दिया। घटना को छुपाने की नीयत से  दोनो को नाली के पास फेक दिया व घटना मे प्रयुक्त चाकु को बाडी मे छुपा दिया। और घटना के बाद किसी के आने की आहट पाकर भाग गये।  घटना के बाद दोनो को सिमगा स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया जहाँ डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और जाँच मे जुटी। बयानो के आधार और जाँच मे बात सामने आयी जिसमे आरोपियों से पुरानी रंजिश का पता चला।जिसके आधार पर आरोपियों से पुछताछ की गयी तो आरोपियों ने अपना अपराध कबुल कर लिया तथा घटना मे प्रयुक्त चाकु भी बरामद कर लिया है।

पुलिस ने तीनो आरोपियों पुत्र धरम डाण्डे. चाचा अश्वनी डाण्डे व पिता  भरत डाण्डे को गिरफ्तार कर ज्युडिशियल रिमांड पर भेज दिया है। इस प्रकार 12 घंटे के अंदर पुलिस को हत्या की गुत्थी सुलझाने मे सफलता मिली है। इस गुत्थी को सुलझाने मे एस आई उमेश वर्मा ए एस आई ईश्वर टोप्पो सहित समगा थाना स्टाफ का प्रमुख योगदान रहा।