breaking news New

गृहमंत्री की कल्पना का मूर्तरूप देने पहल : महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने प्रयास

 गृहमंत्री की कल्पना का मूर्तरूप देने पहल :  महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने प्रयास

डुंडेरा गोठान में बनाया जाएगा डबरी, गोधन सेवा के साथ होगा मछली पालन
रिसाली। नवगठित रिसाली नगर पालिक निगम क्षेत्र में विकास करने के साथ ही शासन की महत्वकांक्षी योजना का विकास करने गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू लगातार प्रयास कर रहे है। खासकर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने कार्य योजना तैयार की जा रही है। नगर पालिक निगम के आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे ने डुंडेरा गोठान में मछली पालन कराने डबरी (तालाब) तैयार करा रहे है।
आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे ने बताया कि ग्रामीण परिवेश में जीवन यापन करने वाली महिलाए मजदूरी करने पैदल शहर आती है। ऐसे में अगर उन्हे उनके ही रिहायसी क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराया जाए तो न केवल समय की बचत होगी बल्कि वे बेहतर तरीके से अपने घर को भी सम्हाल सकेगी। इसीलिए वे डुंडेरा गोठान में गो सेवा के साथ ही महिला स्वसहायता समूह के लिए गोठान में डबरी तैयार करा रहे है। जिसमें मछली पालन कर महिलाए आत्मनिर्भर हो सके।

गढ्डे को देख आया प्लान
दरअसल डुंडेरा में गोठान निर्माण बस्ती से अलग है। जिस स्थान में गोठान तैयार किया जा रहा है वहां डबरी नुमा गढ्डा है। जिसे देखने के बाद आयुक्त ने उसे समतलीकरण न कर तालाब का आकार देने के निर्देश दिए है। ताकि बारिश के पानी को संग्रहण किया जा सके।

गुणवत्ता सुधारने दिए निर्देश
डुंडेरा गोठान का कार्य 70 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है। मवेशियों के लिए शेड के अलावा वर्मी खाद तैयार करने शेड बनाया गया। सुरक्षा के लिहाज से कैम्पस के चारों ओर जाली तार लगाया गया है। जाली कई जगह से झूलने पर आयुक्त ने निर्माण एजेंसी से कार्य को गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के निर्देश दिए।

फ लदार पेड़ लगाया जाएगा
निरीक्षण के दौरान आयुक्त ने क्षेत्र के एल्डरमेन तरूण बंजारे से भी चर्चा की। उन्होंने मॉडल की तरह गोठान बनाने फैसिंग से लगे हुए खाली जमीन पर आम, मुनगा व पपीता के पौधे लगाने कहा। ताकि महिला स्वसहायता समूह को आमदानी हो सके।