breaking news New

जानिए- आखिर ऐसा क्या हुआ की इस बुजुर्ग महिला ने अपनी करोडो की संपत्ति रिक्शा चालक को कर दी दान

जानिए- आखिर ऐसा क्या हुआ की इस बुजुर्ग महिला ने अपनी करोडो की संपत्ति रिक्शा चालक को कर दी दान

ओडिशा। इस दुनिया में अपने वो नहीं जो तस्वीर में साथ हो, अपने वो है जो हर तकलीफ में साथ हो। ऐसा ही कुछ किस्सा मिनाती पटनायक का है जो सुताहट, कुट्टक, ओडिशा की निवासी है, हाल ही में उन्होंने अपनी 1 करोड़ की संपत्ति एक रिक्शा चालक को दान कर दी है। इस 63 वर्षीया महिला ने अपना तीन मंजिला घर, सोने के गहने और अपनी सारी संपत्ति एक रिक्शा चालक बुद्ध सामल को दान कर दी है, जो दो दशकों से अपने परिवार की सेवा कर रहे हैं। 


मिनाती के पति का पिछले ही वर्ष देहांत हो गया, पर उसने फैसला लिया की वह अपना शेष अपनी बेटी के साथ बिताएगी, मगर उसके भाग्य में कुछ और ही लिखा था। उसके पति के देहांत के छह महीने बाद ही उसकी बेटी की हार्ट अटैक से मृत्यु हो गयी। इससे मिनाती को काफी सदमा पंहुचा और उसके स्वास्थ्य पर यह दुखद घटना बहुत भारी पड़ी। जहा अपने साथ नहीं देते वह पराये साथ दे जाते है। 

बुद्ध सामल, जो उनके परिवार को दो दशकों से मदद कर रहा था, उसी  ख्याल रखा, जहा मिनाती के परिवार के किसी भी परिवार के सदस्य ने उसका साथ नहीं दिया वही यह रिक्शा चालक उनके साथ खड़ा रहा।  उसी ने उसका ध्यान रखा और मिनाती की सेवा की।  सामल, मिनाती की बेटी को कॉलेज लेजाने और छोड़ने का काम करता था, वह उनके परिवार का रिक्शा चालक था, और उसके इस भरोसे और समर्पण ने उसे  1 करोड़ का इनाम दिलवाया। मिलती का कहना था की उसने बुद्ध के खिलाफ यह सेवा करके कोई बड़ा काम नहीं किया है, बुद्ध के कामो ने उसे यह परिणाम दिया।