breaking news New

भाजयुमो कोरिया ने प्रदेश की टीकाकरण नीति के ख़िलाफ़ 7 मई को ब्लैक डे मनाया । आगे भी आंदोलन रखेंगे ज़ारी : शारदा गुप्ता

भाजयुमो कोरिया ने प्रदेश की टीकाकरण नीति के ख़िलाफ़  7 मई को ब्लैक  डे मनाया । आगे भी आंदोलन रखेंगे ज़ारी : शारदा गुप्ता


कोरिया / भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष अमित साहू के निर्देश पर प्रदेशभर के सभी बूथों, मंडलों और जिलों के भाजयुमो कार्यकर्ता शुक्रवार को कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए टीकाकरण रोके जाने का विरोध किया और शुक्रवार 7 मई को ब्लैक डे के रूप में मनाया । इसके बाद भाजयुमो कार्यकर्ता भाजयुमो प्रदेश नेतृत्व के निर्देश पर कल 8 मई से कोरिया ज़िले के  सभी ग्राम पंचायतों में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग का टीकाकरण रोके जाने और 45 से अधिक उम्र के नागरिकों के टीकाकरण में उदासीनता व अव्यवस्था के खिलाफ पंचायत सचिव को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप कर जनहित में निर्णय की मांग करेंगे।भाजयुमो  नेता शारदा गुप्ता  (   ज़िला कोरिया ) ने बताया कि उन्होंने वीडीयो जारी करके सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ सोशल मीडिया पर हैश टैग ब्लैक डे ऑफ छत्तीसगढ़ के साथ अभियान चलाने का आग्रह किया था । जिसके फलस्वरूप ज़िले भर के भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला  वहीं भाजयुमो कार्यकर्ता अपनी डीपी भी ब्लैक कर सांकेतिक विरोध दर्ज कर रहे हैं। ग़ौरतलब है कि इसके पहले भी भाजयुमोकोरिया ने केंद्रीय स्वास्थ मंत्री को पत्र लिख कर इस मामले में हस्तक्षेप करने का आग्रह किया था, जिसे उन्होंने स्वीकार किया ।  ज़िले भर से बड़ी संख्या में नागरिकों बुद्धिजीवियों ने विभिन्न सोशल मीडिया एवं समाचार पत्रों में इस बाबत विरोध दर्ज किया था ।

इस पूरे मामले में भाजयुमो का कहना है कि प्रदेश में कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में विफल है। छत्तीसगढ़ प्रदेश सरकार की गलत नीतियों का ही परिणाम है कि आज पूरा प्रदेश कोरोना की चपेट में हैं। दुर्भाग्यपूर्ण बात यह हैं जब प्रदेश को सुरक्षित करने युद्ध स्तर पर वैक्सिनेशन अभियान चलाने की आवश्यकता हैं तब प्रदेश में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा वैक्सिनेशन पर भी चुनावी राजनीति की जा रही हैं। प्रदेश सरकार के पास वैक्सिनेशन अभियान को लेकर कोई ठोस नीति नहीं है जिसके चलते 18 से 44 आयु वर्ग को वंचित होना पड़ रहा है। 45 से अधिक आयु वर्ग को भी वैक्सिनेशन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है बुजुर्गों को भटकना पड़ रहा है। भाजयुमो ने प्रदेश की कांग्रेसी सरकार  से छत्तीसगढ़ में वैक्सिनेशन को लेकर नीति स्पष्ट करने  की मांग की है ।इसके बाद भी यदि  वैक्सिनेशन को लेकर सरकार यदि गम्भीरता नहीं दिखाती और शीघ्र अति शीघ्र युवाओं का वैक्सिनेशन करने की नीति बना कर कार्य नहीं करती और वैक्सिनेशन  में आ रही परेशानी व अव्यवस्था को दूर करने  ठोस कदम नहीं उठाए जाते हैं तो युवा मोर्चा छत्तीसगढ़ की जनता के हित के लिए सड़क पर उतरने मजबूर होगा।