breaking news New

आदिवासी को उप मुख्यमंत्री बनाते तो आदिवासी दिवस सार्थक होता : रिजवी

आदिवासी को उप मुख्यमंत्री बनाते तो आदिवासी दिवस सार्थक होता : रिजवी

रायपुर । जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के मीडिया प्रमुख, मध्यप्रदेश पाठ्यपुस्तक निगम के पूर्व अध्यक्ष, पूर्व उपमहापौर तथा वरिष्ठ अधिवक्ता इकबाल अहमद रिजवी ने विश्व आदिवासी दिवस पर समाज को बधाई एवं शुभकामनाऐं प्रेषित कर कहा है कि इस दिवस को सार्थक सिद्ध करने प्रदेश सरकार छत्तीसगढ़ मंत्रीमंडल के किसी आदिवासी सदस्य को उपमुख्यमंत्री बनाने की घोषणा कर सकती थी जो इस वृहद समाज को गौरवान्वित करने वाला कदम होता तथा आदिवासी दिवस की महत्ता को सिद्ध कर सकता था। प्रदेश में 33 आदिवासी विधायक हैं। उनकी बहुतायत संख्या के प्रति न्याय अभी तक न तो 15 साल तक भाजपा ने किया और न हीं ढाई साल से कांग्रेस की सत्ता ने इस पहलू पर कोई तवज्जों ही दी जो प्रदेश में आदिवासियों की उपेक्षा को दर्शाता है।

रिजवी ने कहा है कि आदिवासी दिवस पर आदिवासियों के पक्ष में कसीदे पढ़े जा रहे हैं। बड़े-बड़े विज्ञापन दिए जाते हैं जो दलों की खोखली तुष्टिकरण की नीति को दर्शाता है। आदिवासी दिवस पर भाजपा-कांग्रेस दिवस की सार्थकता उजागर करने आगामी विधानसभा चुनाव में आदिवासी चेहरा घोषित कर समाज की अपेक्षा का सम्मान करे। कांग्रेस-भाजपा अगला मुख्यमंत्री किसी आदिवासी को बनाने की घोषणा करे तब जाकर सही मायनों में आदिवासी दिवस की सार्थकता सिद्ध होगी। क्या प्रदेश का कोई भी आदिवासी नेता में मुख्यमंत्री बनने की योग्यता नहीं है?