breaking news New

केंद्रीय मंत्री का पद गंवाने वाले बाबुल सुप्रियो ने राजनीति छोड़ी, संसद से भी देंगे इस्तीफा

केंद्रीय मंत्री का पद गंवाने वाले बाबुल सुप्रियो ने राजनीति छोड़ी, संसद से भी देंगे इस्तीफा

नयी दिल्ली।  पश्चिम बंगाल से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद एवं इसी माह केंद्रीय मंत्री का पद गंवाने वाले बाबुल सुप्रियो ने संसद की सदस्यता से इस्तीफा देने और राजनीति से अलग होने की घोषणा की है।

 सुप्रियो ने अपने फेसबुक पेज पर बंगला भाषा में लिखी एक पोस्ट में यह घोषणा करते हुए कहा कि वह एक महीने के अंदर अपना सरकारी आवास भी छोड़ देंगे। उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस या वाममोर्चा किसी भी दल में नहीं शामिल हो रहे हैं। किसी ने भी उन्हें नहीं बुलाया है।

उन्‍होंने कहा कि समाज सेवा करने के लिए जरूरी नहीं है कि राजनीति में शामिल हुआ जाये। उन्होंने कहा कि जल्द ही वह संसद की सदस्यता से इस्तीफा दे देंगे।

 सुप्रियो ने कहा, ‘मैं हमेशा एक टीम का खिलाड़ी रहा हूं। हमेशा एक टीम का समर्थन किया है- मोहनबागान। एक ही पार्टी का समर्थन किया है- वह है भाजपा।’

उन्होंने यह भी कहा कि विधानसभा चुनाव में हार के लिए वह भी जिम्मेदारी लेते हैं लेकिन दूसरे नेता भी जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि वह पहले ही पार्टी और राजनीति से दूर होने का मन बना चुके थे। लेकिन भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा के रोकने की वजह से उन्होंने अपने उस फैसले को हर बार वापस लिया। लेकिन अब तमाम विवाद आने लगे हैं, ऐसे में उन्होंने राजनीति छोड़ने का फैसला लिया।

उल्लेखनीय है कि हाल में केंद्रीय मंत्रिमंडल से हटाए जाने के बाद से सुप्रियो नाराज बताए जा रहे थे। वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन राज्‍य मंत्री थे।