breaking news New

सोनपुर सिनेमा हॉल छत उड़ जाने की वजह से बंद

सोनपुर सिनेमा हॉल छत उड़ जाने की वजह से बंद


ग्रामीणों की मांग फिर से शुरू किया जाए सिनेमा हॉल

नारायणपुर – घोर नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिले के सोनपुर में अबुझमाड़ के ग्रामीणों को जोड़ने और उन्हें जागरूक करने के उद्देश्य से जिला प्रशासन और पुलिस विभाग द्वारा मिनी थियेटर का निर्माण कर देश दुनिया से रूबरू कराने के साथ ही युवाओं में खेल के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से किया गया था और मिनी थियेटर को ग्रामीण ने सोनपुर सिनेमा का नाम दिया और इसको लेकर ग्रामीणों में काफी उत्साह देखा जा रहा है | लेकिन पिछली बारिश के दौरान आंधी-तूफान में सोनपुर सिनेमा की छत ही उड़ गई !

जिसके से उसकी सुध लेने वाला कोई नही है वही ग्रामीणों की मांग है कि इस इलाके में मनोरंजन का एक ही साधन था जो साल भर से बंद पड़ा हुआ है जिसे वापस चालू किया जाए। वही पुलिस अतरिक्त अधीक्षक नीरज चंद्राकर ने कहा कि इसे सिनेमा कम डेपल्वमेंट सेंटर कहा जा सकता है यहाँ के लोगो को बाहर की दुनिया से अवगत करना और उन्हें अन्धकार के माहौल से बाहर निकालना के उद्देश्य से किया गया था जिसकी जल्द मरम्मत कराकर वापस ग्रामीणों के लिए चालू किया जाएगा !

ज्ञात हो कि नारायणपुर जिले का अबुझमाड़ का इलाका घने जंगलो और पहाडियों से घिरा हुआ है जहा कि वादियों में अमन और चैन हुआ करता था जिसे नक्सलियों ने अपनी नापाक मनसूबे से इस हसीन वादियों को दहशत नुमा बना दिया |

जिसे पुन; इसके पुराने स्वरूप में लाने के लिए जिला प्रशासन और पुलिस विभाग लगा हुआ है जिसके लिए घोर नक्सल प्रभावित सोनपुर में मिनी थियेटर का निर्माण कराया गया है जहा पर देश दुनिया से कटे अबुझमाड़ के ग्रामीणों को देश दुनिया से रुबुरु कराने का काम इस मिनी थियेटर के माध्यम से किया जा रहा था साथ ही डेपल्वमेंट से जुडी वीडियो को दिखाकर उन्हें जागरूक भी किया जा रहा था ।

जो कि पिछले एक साल से बारिश के दौरान तेज हवाओं में सिनेमा की छत उड़ जाने से बंद पड़ा है जिसे ग्रामीण पुनः शुरू करने की मांग कर रहे है । ग्रामीणों का कहना है कि सोनपुर सिनेमा से हमे देश-दुनिया के बारे में पता चल रहा था कि कहा क्या हो रहा है । फुटबॉल , क्रिकेट मैच , धार्मिक फ़िल्म , नए युवाओ के लिए नई नई बाते जानकारी मिलती थी । लेकिन बारिश के दौरान तेज हवाओं में छत उड़ गई जिसके बाद से बंद पड़ा है जिसे शुरू किया जाना चाहिए ।


नीरज चंद्राकर अतरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस मिनी थियेटर कम डेपल्वमेंट सेंटर में युवाओं के लिए अलग से खेलकूद के सभी सामग्री क्रिकेट , बालीबाल , टेनिस , बास्केटबाल रखे गए है ताकि यहाँ के युवाओं को सभी खेल से रूबरू करा सके | ताकि ये युवा यहाँ से बाहर निकलकर आगे अपनी प्रतिभा साबित कर सके । वही इस मिनी थियेटर को लेकर अबुझमाड़ के ग्रामीणों में काफी उत्साह देखा जा रहा है वही अबुझमाड़ के जनप्रतिनिधि भी इस कार्य में प्रशासन का साथ दे रहे है ।

नारायणपुर जिले का अबुझमाड़ नक्सलि गतिविधियों ने लिए जाना व पहचाना जाता था लेकिन अब यह अबुझमाड़ अपनी इस छवि को बदलते हुए विकास के आयम को छूते जा रहा है और नक्सलमुक्त होने की ओर कदम बढ़ता जा रहा है