breaking news New

गुरू घासीदास जयंती समारोह आज, जगह-जगह जैतखाम में फहरेगा सफेद ध्वज

गुरू घासीदास जयंती समारोह आज, जगह-जगह जैतखाम में फहरेगा सफेद ध्वज

न्यू राजेन्द्र नगर रायपुर में मुख्यमंत्री होंगे शामिल

रायपुर, 18 दिसंबर। छ.ग. में अवतरित महान संत गुरू घासीदास की 264वीं जयंती शुक्रवार को देश के विभिन्न राज्यों में निवासरत सतनामी समाज के लोग अपने सबसे बड़े पर्व को हर्षोल्लास के साथ मनायेंगे। राजधानी में सार्वजनिक जयंती समारोह का मुख्य आयोजन न्यू राजेन्द्र नगर स्थित सांस्कृतिक भवन प्रांगण में आयोजित होगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल होगे, अध्यक्षता नगरीय प्रशासन एवं श्रम मंत्री डाॅ. शिवकुमार डहरिया करेंगे। विशिष्ट अतिथि स्कूल शिक्षा मंत्री डाॅ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत, विधायकगण सत्यनारायण शर्मा, कुलदीप जुनेजा, विकास उपाध्याय, महापौर एजाज़ ढ़ेबर, दिनेश साघ (मुंबई) उपस्थित रहेंगे। 

आयोजन समिति गुरू घासीदास साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के अध्यक्ष के.पी. खण्डे, महासचिव डाॅ. जे.आर. सोनी एवं प्रवक्ता चेतन चंदेल ने जानकारी देते हुए बताया कि कार्यक्रम का शुभांरभ दोपहर 02 बजे राष्ट्रीय साहित्य संगोष्ठी से होगी जिसका विषय ‘‘भारतीय समाज में सतनाम पंथ का प्रभाव’’ रखा गया है। जिसमें देश के कई राज्यों के साहित्यकार भाग लेगे वहीं कैलिफोर्निया व नीदरलैंड के साहित्यकार वेबीनार के माध्यम से अपनी व्याख्यान देगें जिसके लिये अगल से स्क्रीन लगाई जा रही है। संध्या 05 बजे पंथी व मंगल आरती के साथ 40 फीट ऊंचे जैतखाम में क्रेन की सहायता से सफेद ध्वज का नया पालों चढ़ाया जायेगा तत्पश्चात भिलाई की अनुसूईया बंजारे अपनी कलाकारों के साथ भक्तिमय प्रस्तुति देगी। संध्या 06 बजे अलंकरण समारोह में 11 विभूतियों को उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए सम्मानित किया जायेगा इस दौरान डाॅ. जे.आर. सोनी द्वारा लिखित पांच ग्रंथों का विमोचन तथा आर.के. पाटले द्वारा संकलित सतनाम कैलेण्डर 2021 का विमोचन होगा।