breaking news New

बलात्कार के मामले में दस साल नही बल्कि एक हफ्ते मे हो फैसला : सिद्दिकी

बलात्कार के मामले में दस साल नही बल्कि एक हफ्ते मे हो फैसला : सिद्दिकी

बलरामपुर।  बदायूं की घटना की भर्त्सना करते हुये पूर्व मंत्री और कांग्रेसी नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि मौजूदा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार में सूबे की कानून व्यवस्था पूरी तरह फेल हो चुकी है। बलात्कार के मामले मे दस दस साल नही बल्कि एक हफ्ते मे फैसला होना चाहिये।

 सिद्दीकी ने गुरूवार को यहां पत्रकारो से कहा कि सूबे की योगी सरकार कानून व्यवस्था के मामले मे पूरी तरह फेल है। सरकार कहती है कि राज्य में अपराधियों की जगह नहीं है तो फिर अपराध कैसे हो रहे है। रेप मामलो पर सरकार को सख्त कानून बनाने चाहिये। इन अपराधो मे दस दस साल नही बल्कि एक सप्ताह मे फैसला होना चाहिये।

उन्होने कहा कि सरकार का आरोप है कि कांग्रेस अपने आदमी भेज कर किसान अन्दोलन को हवा दे रही है। उनका सरकार से एक सवाल है कि क्या राकेश टिकैत किसान नही है। क्या पंजाब,हरियाणा और दूसरे राज्यो से अन्दोलन के लिए आए लोग किसान नही है।

कांग्रेसी नेता ने कहा कि सरकार कह रही है कि उसने जो कानून बनाया है,वह किसान के हित मे है जबकि किसान कहता है कि हमको यह हित नही चाहिये। किसान आपके बनाए कानून को स्वीकार नही कर रहा है फिर आप किसानो का हित बता कर इस कानून को क्यो थोपना चाह रहे है।

उन्होने आरोप लगाया कि सरकार उद्योगपतियों के इशारे पर काम कर रही है। बेरोजगारी मुंह बाय खड़ी है। पढे लिखे लडके लडकिया मारे मारे फिर रहे है। बिना तैयारी के सरकार ने नोट बंदी कर दी और बिना तैयारी के लॉकडाउन कर दिया।