breaking news New

सर्व आदिवासी समाज लामबंद, आदिवासी महापुरुषों का सम्मान नहीं, बाहरी लोगों का स्टेचू बना कर की जा रही मूर्ति स्थापित

सर्व आदिवासी समाज लामबंद, आदिवासी महापुरुषों का सम्मान नहीं, बाहरी लोगों का स्टेचू बना कर की जा रही मूर्ति स्थापित

सर्व आदिवासी समाज की बैठक नगरनार स्टील प्लांट आरती स्पंज बोधघाट परियोजना अन्य मुद्दों को लेकर हुई चर्चा

दंतेवाड़ा।  आदिवासी समाज द्वारा समाज के विभिन्न मुद्दों को लेकर बैठक आयोजित की गई जिसमें जिले के सभी आदिवासी प्रमुख ने भाग लिया। इस बैठक में प्रमुख मुद्दा रहा आरती स्पंज बोधघाट परियोजना नगरनार स्टील प्लांट और सरकार द्वारा आदिवासी फर्जी जाति मामले व पांचवी अनुसूची क्षेत्र में अधिकारों का हनन का मामला पर विशेष चर्चा की गई। 

सर्व आदिवासी समाज ने सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए फर्जी आदिवासी जाति का मामला में उदासीन रवैए की बात कही और बौधघाट  परियोजना  में डुबान क्षेत्र में आने वाले गांव में शासन प्रशासन द्वारा अब तक ग्रामसभा नहीं कराई गई है जिसके कारण बस्तर के पर्यावरण को नुकसान होने का अंदेशा है आदिवासी समाज के लोग शुरू से ही जल जंगल जमीन की लड़ाई लड़ते आ रहे हैं बाहरी कंपनियों के विरुद्ध आने वाले समय में सर्व आदिवासी समाज लामबंद होने की बात कर रहा है सर्व आदिवासी समाज के प्रमुखों ने बताया कि आदिवासी के नायक महापुरुषों का सम्मान नहीं किया जा रहा है शहर मुख्यालय चौक चौराहों पर बाहरी लोगों का स्टेचू बना कर मूर्ति स्थापित की जा रही है जिसका बस्तर क्षेत्र से कोई लेना देना नहीं है इससे आदिवासियों की संस्कृति विरासत पर कठोर घाट किया जा रहा है  इस पर सरकार को तत्काल रोक लगा देनी चाहिए

 आदिवासी समाज द्वारा वर्षों से एनएमडीसी का मुख्यालय बस्तर में होने की बात की जा रही है परंतु इस पर भी अभी तक कोई संज्ञान नहीं लिया गया है जिससे हमारे आदिवासी भाई बेरोजगार घूम रहे हैं और बाहरी लोगों को नौकरी दी जा रही है

बैठक में उपस्थित सर्वो आदिवासी प्रमुख सुरेश कर्मा बल्लू भवानी नंदलाल मुडामी बीएस रावटे गजलु पोडियामी अन्य सदस्य उपस्थित रहे।