breaking news New

मिस इंडिया 2020 : रिक्शा चालक की बेटी ने जीता खिताब, मान्या सिंह ने कहा, 'मां ने मुझे कहा था औकात से ज्यादा सपने नही देखना चाहिए, देखिए वीडियो

मिस इंडिया 2020 : रिक्शा चालक की बेटी ने जीता खिताब, मान्या सिंह ने कहा, 'मां ने मुझे कहा था औकात से ज्यादा सपने नही देखना चाहिए, देखिए वीडियो

उत्तर प्रदेश की मान्या सिंह ने वीएलसीसी फेमिना मिस इंडिया 2020 के रनर अप का खिताब जीत लिया है. वीएलसीसी फेमिना मिस इंडिया 2020 के विजेताओं की घोषणा 10 फरवरी, 2021 को की गई थी. उनमें से एक उत्तर प्रदेश की मान्या सिंह भी थीं। मान्या को वीएलसीसी फेमिना मिस इंडिया 2020 - रनर अप का ताज पहनाया गया।

उसकी जीत के बाद, उसके पिता के ऑटो-रिक्शा चालक होने के बारे में उसका बयान वायरल हो गया और मान्या के संघर्ष की कहानी ने सभी को प्रेरित किया। एक साक्षात्कार में, मान्या ने बताया कि जीत के बाद अपने माता-पिता से मिलना अभी बाकी है. उसने जब अपनी सफलता के बारे में बताया तो उनकी आंखों में आंसू थे।

मान्या ने यह भी कहा कि वे विश्वास नहीं कर सकतीं कि उसने इस सपने को सच कर दिया। रनर-अप ने यह भी याद किया कि उसने कम उम्र में अपना घर छोड़ दिया क्योंकि उसे पढ़ाई के बाद शादी करने के लिए कहा जाता था। मान्या हमेशा जानती थी कि वह कुछ बड़ा करना चाहती है इसलिए उसने अपना घर छोड़ दिया।




मान्या ने बताया, “जब मैंने अपनी माँ को मिस इंडिया बनने के बारे में बताया, तो उन्होंने कहा, मिस इंडिया बनने के लिए एक मजबूत पृष्ठभूमि की ज़रूरत है। हमें औकात से बढ़कर सपने नही देखना चाहिए. मैंने उनसे कहा कि मुझ पर विश्वास करिए, मैं मेहनत करूंगी और खिताब जीतूंगी.

मान्या ने इस सपने को पूरा करने के लिए काफी संघर्ष किया. उसने पिज़्ज़ा हट की शॉप में काम किया, जबकि वह स्कूल में पढ़ रही थी और जब वह कॉलेज में आई तो उसने अपनी अंग्रेजी और हिंदी को बेहतर बनाने के लिए एक कॉल सेंटर भी ज्वाइन किया. उसने आगे कहा कि वह लोगों को अंग्रेजी बोलते सुनती थी और सीखती थी क्योंकि अंग्रेजी सीखने के लिए पैसे नही थे.

देखिए उसका वीडियो : <bloc8"></script>