breaking news New

भीषण सड़क हादसे में दम्पती समेत चार लोगों की मौत, एक महिला घायल

भीषण सड़क हादसे में दम्पती समेत चार लोगों की मौत, एक महिला घायल

श्रीगंगानगर।  राजस्थान में श्रीगंगानगर जिले के राजियासर थाना क्षेत्र में भारत माला प्रोजेक्ट के तहत सड़क निर्माण के चल रहे कार्य स्थल पर आज एक जीप के रेतीले टिब्बे में गिरने से जीप में सवार दम्पती सहित चार लोगों की मौत हो गयी जबकि एक महिला घायल हो गयी।

राजियासर थाना प्रभारी विक्रम तिवारी ने बताया कि धांधूसर निवासी एक परिवार के लोग किसी रिश्तेदार के निधन हो जाने पर शोक व्यक्त करने के लिए जा रहे थे। सरदारपुरा खरथा के समीप भारत माला प्रोजेक्ट के तहत सड़क निर्माण का कार्य चल रहा है। निर्माण स्थल पर एक ऊंचा टिब्बा काटा हुआ है। जीप जिस कच्चे मार्ग की तरफ से आ रही थी, उसी मार्ग पर आगे जाकर यह टिब्बा कटा हुआ था। यह आम रास्ता नहीं है। जीप चालक को आगे किसी प्रकार का कोई संकेतक नहीं लगे होने के कारण पता नहीं चल पाया। पूर्वान्ह करीब 11 बजे जीप जैसे ही ऊंचाई पर पहुंची, टिब्बा कटा होने के कारण सीधे करीब 20 फुट गहरे टिब्बे से गिर गई। जीप उल्टी गिरी और नीचे गिरते ही पिचक गई। उसमें सभी बुरी तरह से फंस गए।

उन्होंने बताया कि निर्माण स्थल पर काम कर रहे मजदूर तथा निकटवर्ती सरदारपुरा खरथा एवं एटा गांव के लोग भाग कर आए। उन्होंने जीप में फंसे लोगों को बाहर निकाला तब तक महेंद्रसिंह (50), राजू कंवर (48), और प्रभुसिंह (60) की मौके पर ही मौत हो गई। जीप में फंसे घायलों को लोगों ने निकटवर्ती हनुमानगढ़ जिले के रावतसर के सरकारी अस्पताल पहुंचाया जहां दिलीपसिंह (55) ने दम तोड़ दिया। एक महिला नरेशकंवर (35) उपचाराधीन है। बताया जा रहा है उसकी हालत गंभीर है। इस हादसे में एक आठ महीने की एक बच्ची बाल-बाल बच गई।

हादसे के बाद स्थानीय ग्रामीणों ने भारत माला प्रोजेक्ट के इस साइट पर काम करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों और मजदूरों की लापरवाही बताते ग्रामीणों ने धरना लगा दिया। उन्होंने मृतकों के शव नहीं उठाने दिए। यह पता चलने पर सूरतगढ़ से उपखंड अधिकारी तथा पुलिस उप अधीक्षक मौके पर पहुंचे। अधिकारियों द्वारा दोषियों के विरूद्ध काररवाई का आश्वासन दिए जाने पर धरना समाप्त किया गया। तत्पश्चात शवों को पोस्टमार्टम के लिए सूरतगढ़ के सरकारी अस्पताल में लाया गया। थाना प्रभारी ने बताया कि शव पोस्टमार्टम के बाद परिनाजें सौंप दिए गए। हादसे का मामला दर्ज किया जा रहा है।