breaking news New

खरीफ फसलों के लिए बीज एवं खाद की पर्याप्त उपलब्धता

खरीफ फसलों के लिए बीज एवं खाद की पर्याप्त उपलब्धता


बलौदाबाजार, 10 मई। खरीफ वर्ष 2021 में जिलें के किसानों के मांग के अनरूप 49 हजार 805 क्विंटल बीज का लक्ष्य है। जिसमें 48,320 क्विंटल विभिन्न किस्मों के धान 310 क्विंटल दलहन,775 क्विंटल तिलहन तथा 400 क्विंटल हरी खाद (सनई ढेंचा) के बीज शामिल हैं। जिलें के कृषि विभाग के प्रभारी उपसंचालक ने बताया कि विकासखण्ड पलारी के 21 सोसायटियों मे 6510 क्विंटल,सिमगा के 15 सोसायटियों मे 4270 बलौदाबाजार के 17 सोसायटियों मे 4200,बिलाईगढ़ के 7 सोसायटियों मे 1890, भाटापारा के 6 सोसायटियों मे 1380 एवं कसडोल के 4 सोसायटियों मे 960 क्विंटल हरी खाद के 5 क्विंटल सहित कुल 19,215 क्विंटल बीज अब तक भंडारित हो गया है। जिसमें स्वर्णा एवं महामाया धान की किस्म के बीज शामिल हैं। 

साथ ही अब तक जिलें में विभिन्न किसानों को 353 क्विंटल बीज का वितरण भी कर  दी गयी है। उन्होंने आगें बताया कि इसके अतिरिक्त जय किसान बीज उत्पादक सहकारी समिति सेम्हरडीह बलौदाबाजार में 1075 क्विंटल बीज उपलब्ध है। के धान विशेष किस्म जैसे दुबराज, बादशाह भोग,विष्णुभोग, राजभोग,के आधार श्रेणी के बीज कृषि विज्ञान केंद्र भाटापारा,डीके फार्म एवं शासकीय कृषि फार्म अर्जुनी में 42 क्विंटल बीज की उपलब्धता है। जिसका उपयोग प्रमाणित बीज उत्पादन प्रगुणन कार्यक्रम हेतु किसान उपयोग कर सकतें है। इसके अतिरिक्त  जिलें में दलहन के 300 सोयाबीन के 41क्विंटल आधार व प्रमाणित बीज उपलब्ध है। भंडारण का कार्य सतत रुप से जारी है।

बीज की कीमत प्रति क्विंटल धान 2400 रुपये,पतला धान 2700 रुपये,सुगन्धित 3000 अरहर 9250 रुपये, उड़द 9000 रुपये,सोयाबीन 7250 हरी खाद (सनई, ढेंचा) 8000 एवं 6000 रुपये प्रति क्विंटल है।

रासायनिक खाद का भंडारण कृषि विभाग के प्रभारी उपसंचालक ने बताया कि जिलें के सोसायटी एवं निजी दुकानों में कुल 14,300 मैट्रिक टन विभिन्न रासायनिक खाद का भंडारण जिलें में उपलब्ध है। जिसमें डीएपी 2259, यूरिया 5957, सुपरफास्फेट 1123, पोटाश 593,एनपीके 992 मैट्रिक टन सहित कुल 11624 मैट्रिक टन जिलें के सोसायटियों में भंडारित है। साथ ही निजी कृषि दुकानों में 2676 मैट्रिक टन  खाद उपलब्ध है। इस तरह कुल 14300 मैट्रिक टन खाद की उपलब्धता है। साथ ही किसानों को 331 मैट्रिक टन  खाद का वितरण कर दी गयी है। आगें उन्होंने बताया की पिछले वर्ष के भंडारित खाद,स्कन्ध का विक्रय दर गत वर्ष का ही रहेगा। खाद की बोरियों में मूल्य का प्रिंट रहेगा। नया खाद,स्कन्ध के मूल्य अधिक होने की संभवना है। इसलिए किसान बंधुओं से अपील है कि वह कोविड के नियमों का पालन करतें  हुए अग्रिम उठाव कर खाद एवं बीज का क्रय कर सकते है।