breaking news New

किड्स कॉर्नर 'बाला' की रिओपनिंग में बच्चों ने की जमकर मस्ती

किड्स कॉर्नर 'बाला' की रिओपनिंग में बच्चों ने की जमकर मस्ती


जगदलपुर।  कोरोना संक्रमण के कारण बंद किये गए लाला जगदलपुरी केंद्रीय ग्रंथालय स्थित किड्स कॉर्नर 'बाला' का संचालन आज बाल दिवस के अवसर पर पुनः प्रारंभ कर दिया गया है। 

जिला प्रशासन के निर्देश पर बाल अनुभाग को नयी साज सज्जा के साथ दुबारा प्रारंभ किया गया है। मुख्य अतिथि नगर निगम आयुक्त  प्रेम कुमार पटेल  ने फीता काट कर नये किड्स कार्नर का पुनः आरम्भ किया।

किड्स कॉर्नर के पुनः संचालन से खुश बच्चों ने यहां विभिन्न मनोरंजनात्मक और ज्ञानवर्धक खेलों के माध्यम से जमकर मस्ती की। इस अवसर पर शिक्षको द्वारा छात्रों को सौर मंडल के मॉडल के द्वारा सौर मंडल की विस्तृत जानकारी दी गयी। शतरंज के विशाल मोहरों द्वारा छात्रों ने शतरंज का आनंद लिया.

इसके साथ ही शिक्षाप्रद सांप सीढ़ी के द्वारा बच्चों ने खेल खेल में नैतिकता का पाठ भी सीखा। इसके उपरांत भारत के विशाल 3डी मॉडल द्वारा विभिन्न राज्यों के बारे में जाना. शिक्षकों ने उनके प्रश्नों के उत्तर प्रदान कर उनकी शंकाओं का भी समाधान भी किया।

इसके साथ ही आज लाला जगदलपुरी केन्द्रीय ग्रंथालय में  बाल दिवस के अवसर पर चित्रकला और सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता भी आयोजित की गई।

चित्रकला प्रतियोगिता में जिले के विभिन्न विद्यालयों से आये प्राथमिक स्तर के 70 विद्यार्थियों ने अपनी रचनात्मकता का परिचय दिया। इसमें प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय तथा 10 सांत्वना पुरस्कार प्रदान किये गये,

इसके साथ ही प्राथमिक स्तर के छात्रों के मध्य प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया जिसमे लिखित चरण में 32 स्कूलों से 64 छात्रों ने भाग लिया. द्वितीय चरण में 6 स्कूल की टीम को मौखिक प्रश्नोतरी के लिए चयन किया गया।

इसमें प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार प्रदान किये गये। प्रतियोगिताओं के उपरांत पुरस्कार वितरण किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में अपर कलेक्टर श्री अरविन्द एक्का  तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में नगर निगम आयुक्त श्री प्रेम कुमार पटेल और जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री कैलाश कोडोपी  उपस्थित रहे।

अपने उद्बोधन में  एक्का ने छात्रों के प्रयासों की सराहना की तथा छात्रों को और बेहतर प्रदर्शन के लिए शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रतियोगिता में जीत हासिल करने से ज्यादा महत्वपूर्ण उस प्रतियोगिता में भाग लेना होता है।

  प्रेम कुमार पटेल ने छात्रों को बस्तर के विभिन्न पर्यटन स्थलों तथा बस्तर दशहरा की जानकारी प्रदान की। उन्होंने छात्रों को प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन के मन्त्र भी दिए।  कोडोपी ने ग्रंथालय के आयोजन की सराहना करते हुए कहा कि यह ग्रंथालय छात्रों को पढ़ने में मदद करने के साथ साथ उनकी बहुमुखी प्रतिभा को निखारने का कार्य कर रही है।

अतिथियों ने छात्रों को प्रमाण पत्र एवं पुरस्कार वितरण किया। इसके तहत प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में प्रथम स्थान के लिए सेंट जेवियर्स स्कूल के रिषभ पाण्डेय एवं खुशी पाण्डेय द्वितीय स्थान के लिए प्राथमिक शाला सदर स्कूल प्रियांशु ठाकुर एवं श्रीयांश और तृतीय स्थान के निर्मल विद्यालय की सानवी दुल्हानी एवं स्वर्णिका पाण्डेय को सम्मानित किया गया।

चित्रकला प्रतियोगिता में कालीबाड़ी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय जगदलपुर की प्रियंका ठाकुर प्रथम, निर्मल विद्यालय की प्रियांशी दवितीय और अर्चित जैन तृतीय स्थान पर रहे। इन सभी प्रतिभागियों के साथ ही उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले दस अन्य विद्यार्थियों को सांत्वना पुरस्कार भी दिया गया।

यह कार्यक्रम सहायक कलेक्टर सुश्री सुरुचि सिंह के मार्गदर्शन में विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी मो. शोएब अंसारी के द्वारा  शशिकांत सिंह गौतम के संयोजन में किया गया। आयोजन समिति में  हुसैन खान,  पवन दीक्षित,  सुमित प्रसाद,  गरुण मिश्रा, संजीव शील,  प्रमोद जोशी, गोपाल पांडे,  प्रणव तिवारी,  धनसिंह कश्यप शामिल थे।