breaking news New

क्वारंटाइन सेंटर पहुंचे कलेक्टर, भोजन व्यवस्था की ली जानकारी

क्वारंटाइन सेंटर पहुंचे कलेक्टर, भोजन व्यवस्था की ली जानकारी

 छिर्रालेवा के अनुपयोगी बंद खदान, ठूंठापाली के गौठान और लम्बर के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का किया अवलोकन
महासमुंद। बसना विकासखण्ड के शासकीय प्राथमिक शाला मेढ़ापाली स्थित क्वारंटाइन सेंटर का निरीक्षण कलेक्टर डोमन सिंह ने बुधवार को किया। इस दौरान उन्होनें प्रवासी श्रमिकों से मुलाकात कर उनका हाल चाल जाना और उनके स्वास्थ्य, भोजन के संबंध में जानकारी ली। सिंह ने कहा कि वे अपने और अपने परिवार के स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए क्वारंटाइन नियमों का पालन करें। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों की सलाह को मानें। कोई दिक्कत या तकलीफ होने पर स्थानीय स्वास्थ्य कर्मी या कंट्रोल रूम को सूचित करें।
कलेक्टर ने उपस्थित ग्रामीणजनों से कोरोना से बचाव के लिए सजग-सतर्क रहने, मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग और बार-बार हाथ धोने का आग्रह किया। क्वारेंटीन श्रमिकों ने बताया कि वे 01 जून 2021 को वापस आकर यहां रह रहें हैं। यहां पर 12 लोग रह रहें हैं, सभी एक ही परिवार से हैं। कार्य के सिलसिले से उत्तरप्रदेश में जाकर ईंट भट्टे  में कार्य कर रहे थे। यहां आने पर पंचायत के लोगों ने क्वारंटाइन सेंटर में ठहराया है। उन्हें राशन बनाने के लिए सभी प्रकार की आवश्यक सामग्री उपलब्ध कराई गई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी लोगों की स्वास्थ्य की जांच की गई है, हम सभी लोग स्वस्थ हैं। कलेक्टर सिंह इसके बाद प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र लम्बर पहुंचे। जहां पात्र व्यक्तियों का चल रहे टीकाकरण की कार्रवाई देखी। टीकाकरण कराने आए लोगों से स्वास्थ्य के संबंध में बातचीत की। साथ ही उन्होंने महिला-पुरूष वार्ड, ओपीडी कक्ष सहित स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण किया।
अनुपयोगी खदान का भी किया अवलोकन
कलेक्टर ने ग्राम छिर्रालेवा के बंद अथवा अनुपयोगी खदान का भी अवलोकन किया। उन्होंने यहां आर्थिक गतिविधियां शुरू करने के जरूरी निर्देश दिए। अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि आसपास के शासकीय भूमि को चिन्हाकित कर समतलीकरण करने, उपेक्षित खदान का लंबाई चैड़ाई, गहराई के अनुसार शीघ्र कार्ययोजना पर अमल करने, प्रदर्शन के तौर पर प्लान्टेशन, खदान के पानी में मछली पालन करने सहित अन्य आवश्यक कार्य कराने को कहा। इसके उपरान्त कलेक्टर डोमन सिंह ने ग्राम ठूठापाली के स्वालंबी गौठान का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को गौठान में नैपियर घास, नीम, करंज सहित अन्य औषधि छायादार पौधा लगाने, पोषण बाड़ी बनाने को कहा। वर्मी टांका में कम्पोस्ट खाद बनाने की प्रक्रिया को सुचारू रूप से जारी रखें। साथ ही उन्होंने गौठान में कार्य कर रहीं स्व-सहायता समूह की महिलाओं से चर्चा की। इस दौरान संबंधित विभाग के अधिकारियों को महिला स्व-सहायता समूह को उनके द्वारा विक्रय किए गए वर्मी कम्पोस्ट खाद का भुगतान समय पर कराने के निर्देश दिए। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आकाश छिकारा, सीएमएचओ डा एनके मंडपे, एसडीएम बीएस मरकाम, कृषि विभाग के उप संचालक एसआर डोंगरे, खनिज अधिकारी एचडी भारद्वाज, मत्स्य विभाग के सहायक संचालक मेहरा, तहसीलदार आरपी बघेल, जनपद सीईओ सनत महादेवा सहित जिला स्तरीय एवं विकासखण्ड स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।