breaking news New

हत्या के मामले में अपचारी बालक गिरफ्तार

हत्या के मामले में अपचारी बालक गिरफ्तार

जांजगीर चांपा, 22 नवंबर।  हत्या के मामले में अपचारी बालक को गिरफ्तार किया गया। 20 नवंबर की रात करीब 7 बजे प्रार्थी भोजन कर सपरिवार सो रहे थे जो रात्रि करीब 10.15 बजे प्रार्थी संतोष केवट पिता स्व लेखन केवट निवासी करूमह गुडाखू घिसने घर के आगन में आया तो नाली के पास देखा की उत्तरा केवट के कमरे के अंदर से लाल रंग का पानी आंगन के नाली में आ रहा था करीब से जाकर देखने पर खून थक्का जमा था तब प्रार्थी अपनी पत्नी सुनिता केवट तथा बेटी सती केवट के साथ जाकर देखा उत्तरा केवट के कमरे के पास जाकर देखा उत्तरा केवट का शव जमीन पर लहुलुहान चित पड़ा था। प्रार्थी का भतीजा शव के पास तखात पर बैठकर एकटक देख रहा था पूछने पर उत्तरा केवट की मृत्यु कैसे हुई नहीं बताया जो मामले में अपराध कमांक 327/20 धारा 302 भादवि पंजीबद्ध कर वरिष्ठ अधिकारियों पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर , एंव अति पुलिस अधीक्षकमधुलिका सिंह के कुशल दिशा निर्देशन एवं अनुविभागीय अधिकारी दिनेश्वरी नंद महोदया को हालात बताकर एंव मार्ग दर्शन प्राप्त कर थाना मुलमुला पुलिस द्वारा विवेचना प्रारंभ किया गया । मामले की गंभीरता एंव जटिलता के मददे नजर अति . पुलिस अधीक्षक महोदया मधुलिका सिंह एवं एस.डी.ओ.पी दिनेश्वरी नंद द्वारा एफ.एस.एल. वैज्ञानिक श्री विश्वास एंव श्री प्रवीण सोनी , फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट विद्या जौहर पुलिस फोटोग्राफर एंव डाग स्क्वायड की टीम के साथ मौके पर मोर्चा सम्हाला गया ।

नतीजतन अपचारी बालक से वैज्ञानिक तरीके से पूछताछ पर मृतक द्वारा शराब के नशे में आये दिन मारपीट किये जाने से प्रताडित एंव आकोशित होकर जुर्म करना स्वीकार कर घटना में प्रयुक्त पत्थर मेमोरेण्डम कथन के आधार पर जप्त कराया गया । विवेचना दौरान ईट.फर्श में लगे खून को पोछने हेतु प्रयुक्त कपडे आदि सुसंगत भौतिक साक्ष्य जप्त किया गया है। अपचारी को विधिवत गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय किशोर न्याया बोर्ड प्रस्तुत किया गया है । मामले की विवेचना मे पुलिस अधीक्षक के कुशल मार्ग दर्शन एवं अति पुलिस अधीक्षक महोदया के अनुभव अनु अधिकारी महोदय का घटना का सुक्ष्म विश्लेषण एफएसएल टीम की वैज्ञानिक दृष्टिकोण सहित मुलमुला थाना स्टाफ का तत्परता एंव समर्पण भाव से की गई कार्यवाही कारगर रही ।