breaking news New

शत्रुघ्न सिन्हा के मुकाबले लड़ रहीं भाजपा उम्मीदवार अग्निमित्रा पॉल की गाड़ी पर पथराव

शत्रुघ्न सिन्हा के मुकाबले लड़ रहीं भाजपा उम्मीदवार अग्निमित्रा पॉल की गाड़ी पर पथराव

कोलकाता । पश्चिम बंगाल में आसनसोल लोकसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवाद अग्निमित्रा पॉल की गाड़ी पर आज सुबह कथित तौर पर पथराव किया गया . जिससे इलाके में तनाव उत्पन्न हो गया। वह तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार शत्रुघ्न सिन्हा के मुकाबले लड़ रही हैं। टीएमसी की ओर से मशहूर अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा को चुनाव में उतारे जाने से मुकाबला हाईप्रोफाइल हो गया है।

  निर्वाचन आयोग के अनुसार, आसनसोल लोकसभा और बालीगंज विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच मंगलवार सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ। पॉल ने आरोप लगाया, बाराबनी में मेरे पोलिंग एजेंट को एक मतदान केंद्र में दाखिल नहीं होने दिया गया। मेरे वाहन पर हमला किया गया और पुलिस मूकदर्शक बनी रही।

वहीं, तृणमूल कांग्रेस ने आरोप लगाया कि पॉल और उनके सुरक्षाकर्मियों ने इलाके में अशांति फैलाने की कोशिश की। तृणमूल के एक नेता ने कहा, एक उम्मीदवार 20 गाडिय़ों के काफिले के साथ कैसे निकल सकता है वह और उनके सुरक्षा कर्मी इलाके में तनाव पैदा करने की कोशिश कर रहे थे। निर्वाचन आयोग ने कहा कि उसे मामले से संबंधित शिकायत मिली है। एक अधिकारी ने कहा, हम इस पर गौर करेंगे।

आयोग ने बताया कि पहले दो घंटे में आसनसोल में 12.77 प्रतिशत और बालीगंज में आठ प्रतिशत मतदान हुआ। मतदान शाम साढ़े छह बजे तक चलेगा। बालीगंज से पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो चुनाव में उतरे हैं, जो टीएमसी में शामिल हो गए थे। बालीगंज का प्रतिनिधित्व करने वाले राज्य के मंत्री सुब्रत मुखर्जी का पिछले साल निधन हो गया था। इन कारणों से रिक्त हुई दोनों सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। 

आसनसोल से तृणमूल ने अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा और भाजपा ने आसनसोल दक्षिण से विधायक अग्निमित्रा पॉल को उम्मीदवार बनाया है। बालीगंज में तृणमूल ने सुप्रियो, भाजपा ने केया घोष और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने सायरा शाह हलीम को मैदान में उतारा है। कांग्रेस ने भी दोनों सीट पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं। आसनसोल में लगभग 15 लाख मतदाता मताधिकार का प्रयोग करने के पात्र हैं। बालीगंज में करीब 2.5 लाख मतदाता हैं। दोनों निर्वाचन क्षेत्रों में केंद्रीय बलों की कुल 133 टुकडिय़ां तैनात की गई हैं।