breaking news New

हर्षोल्लास के साथ दल्लीराजहरा में मनाया गया दलितों, शोषितों ,वंचितों के मसीहा डॉ भीमराव अंबेडकर की 131 वी जयंती

हर्षोल्लास के साथ दल्लीराजहरा में मनाया गया दलितों, शोषितों ,वंचितों के मसीहा डॉ भीमराव अंबेडकर की 131 वी जयंती

दल्लीराजहरा -दलितों, शोषितों ,वंचितों के मसीहा भारतीय संविधान एवं आधुनिक भारत के निर्माता भारत रत्न बोधिसत्व डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की 131 वी जयंती छत्तीसगढ़ बौद्ध समाज दल्ली राजहरा,पुराना बाजार के डॉ. अंबेडकर संस्कृतिक भवन,पुराना बाजार में श्री फेरूलाल बाम्बेश्वर की अध्यक्षता में हर्षोल्लास के साथ मनाई गई।


इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित  अनिला भेंडिया मंत्री छत्तीसगढ़ शासन एवं श्री कुंवर सिंह निषाद संसदीय सचिव छत्तीसगढ़ शासन ने डॉ .बाबासाहेब आंबेडकर के छायाचित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर जयंती समारोह का विधिवत शुभारंभ किया। जयंती समारोह में प्रमुख वक्ता के रूप में उपस्थित  गोवर्धन ठाकुर पुलिस अधीक्षक बालोद एवं श्रीमती प्रज्ञा मेश्राम अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बालोद, विशिष्ट अतिथि श्रीमती चंद्रप्रभा सुधाकर अध्यक्ष जिला कांग्रेस कमेटी बालोद, श्री शीबू नायर अध्यक्ष नगर पालिका दल्ली राजहरा , पीयूष सोनी मंत्री प्रतिनिधि डौंडी , संगीता नायर पूर्व अध्यक्ष ब्लॉक कांग्रेस कमेटी, सांसद प्रतिनिधि विक्रम धुर्वे,  मनोज मरकाम एस.डी.एम. डौंडीलोहारा, श्री के .एस.मसराम सहायक आयुक्त आदिवासी कल्याण विभाग बालोद ,  राजेश बागड़े पुलिस अनुविभागीय अधिकारी बालोद, शुभ सिह कुरेटी सदस्य भारतीय श्रम सहकारी समिति लिमिटेड नई दिल्ली,  नारायण साहू मुख्य नगरपालिका अधिकारी दल्ली राजहरा, विजय निकोसे उद्यान अधीक्षक अरमुरकसा का छत्तीसगढ़  बौद्ध समाज के प्रमुख पदाधिकारियों ईश्वर लाल खोबरागड़े, कमल कांत मेश्राम,बिसन कांडे, अरुण उके ,अनिल रामटेके ,ईश्वर बोरकर, अमित बांबेश्वर,आनंद बोरकर, किशोर श्रीरंगे,  राजेंद्र मेश्राम ,उत्तम उके, सुरेंद्र रामटेके, उत्तम बाम्बेश्वर, सोहन रामटेके, रवि बारसागड़े, शशि चुनारकर अध्यक्ष महिला मंडल, माया मेश्राम,शबनम खोबरागड़े, ममता भोयर, इंदु बाला मेश्राम ,आशा गजभिए,  कविता तिगोटे, सुजाता मेश्राम, सुलोचना मेश्राम, लता मेश्राम ,पंचशीला सुखदेवे ने पुष्पहार, गुलदस्ता देकर एवं बैच लगाकर स्वागत किया। जयंती समारोह के शुभारंभ में वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजकुमार भोयर ने स्वागत भाषण देते हुए समाज की गतिविधियों को विस्तार से बताया। बाबा साहेब की जयंती पर उपस्थित समाज को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि अनिला भेड़िया ने कहा कि डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर कठिन संघर्ष करके इस देश के शोषित समाज को आगे लाया है भारतीय संविधान में समाज के सभी वर्गों के अधिकारों का संरक्षण किया है आज इसी का परिणाम है कि  सभी क्षेत्रों में अनुसूचित जाति और जनजाति वर्ग के लोग बड़ी संख्या में समाज का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

संसदीय सचिव एवं गुंडरदेही के विधायक कुंवर सिंह निषाद ने अपने संबोधन में कहा कि मै बचपन से ही बौद्ध समाज के बीच रहा, उनके सुख दुख में सहभागी हुआ। यह बाबासाहेब आंबेडकर का ही प्रताप है कि मुझे एक विधायक और संसदीय सचिव के रूप में आप लोगों के बीच सेवा करने का अवसर प्राप्त हुआ। डॉ.अंबेडकर जी का जीवन दर्शन हर समाज के लिए आदर्श एवं अनुकरणीय है।


जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  चंद्रप्रभा सुधाकर ने कहा कि बाबासाहेब आंबेडकर सामाजिक समरसता के अग्रदूत थे तत्कालीन सामाजिक व्यवस्था के खिलाफ उनके संघर्ष ने उन्हें जननायक के रूप में स्थापित किया। प्रमुख वक्ता के रूप में उपस्थित  गोवर्धन ठाकुर पुलिस अधीक्षक बालोद एवं  प्रज्ञा मेश्राम उप पुलिस अधीक्षक बालोद मैं बाबासाहेब आंबेडकर द्वारा किए गए कार्यों एवं राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को याद करते हुए सविधान में प्रदत्त अधिकारों , महिलाओं के उत्थान एवं सशक्तिकरण की दिशा में उनके योगदान को याद किया। बौद्ध महासंघ छत्तीसगढ़ के संयोजक अनिल खोबरागड़े ने कहा कि दलितों के मसीहा, महान कानून विद , शिक्षा संगठन और संघर्ष का मूल मंत्र देने वाले बोधिसत्व डॉ बाबासाहेब आंबेडकर को राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान एवं नए भारत के निर्माण के लिए सदैव याद किया जाएगा ।

इनके अतिरिक्त  जीएस खोबरागड़े , संगीता नायर, गुलाब मेश्राम नेवी अपने विचार व्यक्त किए।

बौद्ध समाज के पूर्व अध्यक्षों जी. एस. खोबरागड़े एवं डॉ. जी. डी. गजभिए को दल्ली राजहरा मैं बौद्ध समाज को संगठित कर मुख्यधारा में लाने, समाज के बीच शिक्षा का व्यापक प्रचार प्रसार करने एवं सामाजिक भवनों के निर्माण में किए गए अमूल्य योगदान के लिए मुख्य अतिथि श्रीमती अनिला भेड़िया एवं  कुंवर सिंह निषाद ने स्मृति चिन्ह एवं पुष्पगुच्छ भेंट कर सम्मानित किया।

अंचल के वरिष्ठ समाजसेवी स्वर्गीय शिवदास काम्बले जी की स्मृति में उनके पुत्रों सतीश काम्बले एवं सुमेध काम्बले ने छत्तीसगढ़ बौद्ध समाज को बाबासाहेब आंबेडकर की प्रतिमा भेंट की जिसका महिला एवं समाज कल्याण मंत्री श्रीमती अनिला भेड़िया ने लोकार्पण किया।

छत्तीसगढ़ बौद्ध समाज द्वारा समस्त अतिथियों को स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया। कार्यक्रम का संचालन रिखी राम मोटघरे एवं आभार प्रदर्शन हितेश मेश्राम ने किया। अंबेडकर जयंती पर प्रातः काल छत्तीसगढ़ बौद्ध समाज के अध्यक्ष फेरूलाल बांम्बेश्वर एवं छत्तीसगढ़  बौद्ध महिला मंडल की अध्यक्षा शशि चुनारकर ने डॉक्टर अंबेडकर संस्कृतिक भवन एवं डॉ आंबेडकर शिशु मंदिर में ध्वजारोहण किया इसके पश्चात समस्त बौद्ध उपासकों ने त्रिशरण पंचशील का पाठ किया ।

अंबेडकर जयंती समारोह में प्रमुख रूप से रतीराम कोसमा ,रवि जायसवाल, विवेक मसीह, रामजतन भारद्वाज ,के ईश्वर राव ,संतोष पांडे, जेबा कुरैशी, विल्सन मेथ्यू,सोहन खडसे ,पवन मेश्राम,जैनेंद्र श्रीरंगे ,पवन खोबरागड़े, मुकुंद उके, रवि बारसागढे ,बंटी रंगारी,ऋषि अलमोरे, प्रवीण मेश्राम, मुन्ना सहारे, सुधीर रंगारी, अनिल मेश्राम, सीमा अलमोरे, प्रतिमा खोबरागडे, निर्मला उके,नंदा खोबरागड़े, निखिल जयवंते, डोमेंद्र चुनारकर, विनोद रामटेके, राहुल रामटेके, भूपेश सहारे,अनाम अहमद, नितिन लूल्ला, अजय बघेल आदि उपस्थित थे।