breaking news New

इलेक्ट्रॉनिक कांटा से धान की तौल किए जाने की मांग, गांव-गांव में चलाया जाएगा हस्ताक्षर अभियान

इलेक्ट्रॉनिक कांटा से धान की तौल किए जाने की मांग, गांव-गांव में चलाया जाएगा हस्ताक्षर अभियान

बेमेतरा।   सरकारी धान खरीदी केंद्रों में लंबे समय से किसान और किसान नेताओं की ओर से इलेक्ट्रॉनिक कांटा में धान की तौल किए जाने की मांग की जा रही है । बीते खरीदी सत्र के दौरान किसान नेता योगेश तिवारी ने इस संबंध में कलेक्टर को ज्ञापन सौंप, धान खरीदी इलेक्ट्रॉनिक कांटा के माध्यम से सुनिश्चित किए जाने की मांग की थी ।

अब इस मांग को लेकर किसान नेता और उनके समर्थकों द्वारा किसानों को एकजुट करने के लिए गांव गांव में हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा । 15 दिनों तक हस्ताक्षर अभियान चलाए जाने के बाद हजारों किसानों के हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन को राज्यपाल के नाम कलेक्टर को सौंपा जाएगा । जिसमें जिले के हर धान खरीदी केंद्र में धान की तौल इलेक्ट्रॉनिक कांटा से किए जाने की मांग की जाएगी ।

इस संबंध में किसान नेता योगेश तिवारी ने बताया कि बीते खरीदी सत्र में उनके द्वारा कई धान खरीदी केंद्रों का निरीक्षण किया गया था ।  इस दौरान कई धान खरीदी केंद्रों में धान की तौल में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की गई थी ।  किसानों से हर कट्टे में 2 से 3 किलो अतिरिक्त धान लिया गया ।  कई कट्टे में 5 किलो का अंतर देखा गया, इस तरह गरीब किसानों से लूट का खेल खुलेआम चल रहा है । इसलिए धान की खरीदी इलेक्ट्रॉनिक कांटा से किए जाने की मांग की जा रही है ।

इसके अलावा बीते सत्र में धान खरीदी के लिए किसानों से बारदाना मांगे गए थे ।  एक ओर जहां धान ओवरवेट तौला जा रहा है वहीं दूसरी ओर किसानों से बारदाना मंगाने पर उन्हें दोहरी मार झेलनी पड़ रही है । हर स्तर पर किसान लूटे जा रहे हैं सैकड़ों किसानों को अब तक बारदाना की राशि नहीं मिल पाई है । अभियान की शुरुआत बेरला ब्लाक के ग्राम बोरसी से होगी ।