breaking news New

असफलता के सारे कीर्तिमान हासिल कर चुकी भूपेश सरकार

असफलता के सारे कीर्तिमान हासिल कर चुकी भूपेश सरकार

गरियाबंद। धान खरीदी और किसानों के मुद्दे पर भाजपा ने विशाल धरना प्रदर्शन कर राज्य़ की मौजूदा कांग्रेस सरकार की किसान विरोधी नीति को लेकर जमकर हल्ला बोलते हुए हजारों कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी। कलेक्ट्रेट कार्यालय का घेराव करने निकले भाजपा नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को पुलिस बल ने तिरंगा चौक से पहले ही बैरिकेट्स लगाकर रोक लिया। भाजपा कार्यकर्ताओं ने भूपेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान पुलिस बल और कार्यकर्ताओं के बीच झूमाझटकी एवं धक्का-मुक्की भी हुई। कलेक्ट्रेट घेराव और गिरफ्तारी की अगुवाई पूर्व सांसद चंदूलाल साहू, विधायक डमरूधर पुजारी, पूर्व विधायक संतोष उपाध्याय, गोवर्धन मांझी ने की। 


प्रदेश भाजपा के आह्वान पर गरियाबंद जिले में भाजपाइयों ने राज्य़ की कांग्रेस सरकार के खिलाफ गांधी मैदान में धरना प्रदर्शन किया, जिसमें भारी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता एवं किसान पहुंचे हुए थे। भाजपा नेताओं ने भूपेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। पूर्व सांसद चंदूलाल साहू ने कहा कि किसानों के धान को बिना उन्हें तकलीफ पहुंचाए उनके पूरे धान को लेने की बात कही। इसके साथ ही भाजपा नेताओं ने कांग्रेस सरकार को घेरते हुए कहा कि गंगाजल की कसम खाकर किसान का एक-एक दाना खरीदने की बात करने वाले प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने किए घोषणाओं पर असफल साबित हुए है, चाहे वो बेरोजगारों को 2500 रुपए भत्ते की बात हो या शराबबंदी सभी वादों पर सरकार असफल है। दो साल में प्रदेश की भूपेश सरकार असफलता के सारे कीर्तिमान हासिल कर चुकी है। बारदाना का बहाना बनाकर केंद्र सरकार पर ठीकरा फोड़ने का प्रयास कर रही है। कहा कि आगे भी भाजपा किसानों के हक़ की लड़ाई लड़ने सड़क पर उतरकर उग्र प्रदर्शन कर सरकार को जगाने का काम करेगी।

धरना को विधायक डमरूधर पुजारी, पूर्व विधायक संतोष उपाध्याय, गोवर्धन मांझी, जिलाध्यक्ष राजेश साहू, डॉ. श्वेता शर्मा, डॉ. रामकुमार साहू, भागवत हरित ने संबोधित करते हुए कहा कि देश में पहली राज्य़ सरकार है, जो दो वर्षों में ही अपनी विश्वसनीयता खो चुकी है। गांव, गरीब, किसान परेशान हैं। वायदा तो अनेक किए गए हैं परंतु पूरा करने के नाम से वादा खिलाफी कर रहे हैं। आने वाले समय में जनता राज्य़ की कांग्रेस सरकार को सबक सिखाएगी। विधानसभा स्तरीय प्रदर्शन के बाद जिला मुख्यालय में किसानों के मुद्दे को लेकर यह प्रदर्शन का आयोजन प्रदेश नेतृत्व़ के आव्हान पर किया गया था। धरने के बाद कलेक्ट्रेट घेराव करने भाजपा नेता एवं सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए निकले थे। कार्यक्रम में भाजपा महिला मोर्चा, युवा मोर्चा सहित अन्य़ मोर्चा के कार्यकर्ता भारी संख्या में मौजूद थे। जिन्हें पुलिस बल ने तिरंगा चौक से पहले ही रोक दिया। जहां राज्य़ सरकार के खिलाफ कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की। 


कार्यक्रम में भाजपा जिला महामंत्री अनिल चंद्राकर, पुनीत राम सिन्हा, भागवत हरित, मिलेश्वरी साहू, विभा अवस्थी, आशीष शर्मा, अब्दुल गफ्फार मेमन, योगेश शर्मा, रामरतन मांझी, बोधन नायक, बलदेव सिंह हुंदल, कुंजबिहारी बेहरा, गजेश्वऱ सिन्हा, रामू राम साहू, अनूप भोसले, विकास साहू, राहुल सेन, मनीष हरित, राधेश्याम सोनवानी, सुरेन्द्र सोनटेके, छत्तऱ सिंह ठाकुर, गोपचंद बेनर्जी, मुकेश दासवानी, खोमन चंद्राकर, छाया राही, नूरमती मांझी, ताकेश्वरी मांझी, संजीव चंद्राकर, केशरी ध्रुव, पूर्णिमा चंद्राकर, मंजूलता हरित, पीलूराम यादव, संदीप पांडे, कमल सिन्हा, दुलार सिन्हा, गुरूनारायण तिवारी, लुद्रास साहू, सीताराम यादव, रिखीराम यादव, वंशगोपाल सिन्हा, धनंजय नेताम, परस देवांगन, भोलेशंकर जायसवाल, किशन कंडरा, चंदन साहू, धर्मेन्द्र ध्रुव, तानसिंग मांझी, भीम साहू, आनंद ठाकुर, पकलु ठाकुर, हिमेश बेनर्जी, मोहनीश ठाकुर, प्रखर राजपूत, आकाश सिंह राजपूत, आयुष राजपूत सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे।