breaking news New

छेड़खानी की घटना पर तत्काल कड़ी कार्रवाई की जाए , अधिकारी प्रथामिकता के आधार पर सुने महिलाओं की व्यथा : रंजना शुक्ला

छेड़खानी की घटना पर तत्काल कड़ी कार्रवाई की जाए , अधिकारी प्रथामिकता के आधार पर सुने महिलाओं की व्यथा :  रंजना शुक्ला

औरैया। उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की सदस्य रंजना शुक्ला ने बुधवार को कहा कि महिलाओं के साथ छेड़खानी की घटना पर तत्काल कड़ी कार्रवाई की जाए जिससे किसी भी बड़ी अप्रिय घटना से बचा जा सके।

विकास भवन में महिला जनसुनवाई कार्यक्रम में श्रीमती शुक्ला ने कई पीड़ित महिलाओं की समस्याओं को गम्भीरता पूर्वक सुना और उनके निस्तारण के निर्देश पुलिस अधिकारियों व अन्य अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि अधिकारी महिलाओं की शिकायतों को प्रथामिकता के आधार पर सुने और तत्काल उनका निस्तारण कराये। इस जन सुनवाई कार्यक्रम में 18 महिलाओं ने प्रार्थना पत्र देकर अपनी समस्याओं को सदस्या के सामने रखा।

जनसुनवाई में घरेलू हिंसा से संबंधित प्रकरण अधिक आये। उन्होंने प्रोबेशन अधिकारी आवेश कुमार सिंह को निर्देश दिए कि कन्याओं एवं महिलाओं से संबंधित योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कराया जाए। सभी कॉलेजों में 112 आपातकालीन सेवा का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कराया जाए, जिससे कि महिलाएं अपने अधिकारों को पहचान सके।

उन्होंने जनसुनवाई के बाद जिला चिकित्सालय, महिला थाना और बृद्धाश्रम का निरीक्षण किया एवं संबंधित को आवश्यक निर्देश दिये।