breaking news New

पंडित रविशंकर शुक्ल की पुण्यतिथि सादगी और गरिमा के साथ मनाई गई

पंडित रविशंकर शुक्ल की पुण्यतिथि सादगी और गरिमा के साथ मनाई गई

जगदलपुर, 31 दिसंबर। बस्तर जिला कांग्रेस कमेटी (शहर) के द्वारा आज स्थानीय कांग्रेस भवन में  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पंडित रविशंकर शुक्ल की पुण्यतिथि सादगी और गरिमा के साथ मनाई गई सर्वप्रथम उनके छायाचित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई।

तत्पश्चात जिला कांग्रेस कमेटी के युवा अध्यक्ष  राजीव शर्मा ने उनकी जीवनी पर प्रकाश डालते हुए बताया कि पंडित रविशंकर शुक्ल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रसिद्ध नेता और एक स्वतंत्रता सेनानी थे पंडित रविशंकर शुक्ल को नए मध्यप्रदेश के पुरोधा के रूप में भी याद किया जाता है उन्होंने राष्ट्रीय आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाई स्वदेशी खादी राष्ट्रीय शिक्षा को बढ़ावा दिया है असहयोग सविनय अवज्ञा तथा भारत छोड़ो आंदोलन में शीर्षशत्तर पर भूमिका निभाई 1923 में नागपुर में आयोजित झंडा सत्याग्रह में छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व 4 जुलाई 1937 को श्री खरे के प्रथम कांग्रेसी मंत्रिमंडल में शिक्षा का मंत्री के रूप में सम्मिलित हुए तथा विद्या मंदिर योजनाओं को क्रियान्वित किया 15 अगस्त 1947 को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बने और 1956 तक इस पद पर बने रहे 1 नवंबर 1956 को नए मध्य प्रदेश के प्रथम संस्थापक मुख्यमंत्री बनने का इन्हें गौरव प्राप्त हुआ।

कार्यक्रम में महापौर सफीरा साहू,वरिष्ठ कांग्रेसी सतपाल शर्मा,जिला महामंत्री अनवर खान,राजेश चौधरी,कौशल नागवंश शहनाज बेगम,पापिया गाईन, हरिशंकर सिंह,शाहनवाज खान,एम वेंकट राव,नरेंद्र तिवारी,सहित कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थे।