breaking news New

बड़ा खुलासा : विधानसभा के पटल पर सीएजी की दो रिपोर्ट प्रस्तुत की गई

बड़ा खुलासा : विधानसभा के पटल पर सीएजी की दो रिपोर्ट प्रस्तुत की गई

रायपुर।  राज्य बनने के बाद 20 सालों में 3262 करोड़ रुपए का नियमितीकरण अब तक नहीं हुआ। 2019-20 के दौरान सकल घरेलू उत्पाद 5.46 प्रतिशत रहा। लॉकडाउन के दौरान राजस्व में करीब 14 फीसदी की आई कमी। राजस्व व्यय 9 हजार करोड़ रुपए बढ़ा।

विधानसभा के पटल पर शुक्रवार को सीएजी की दो रिपोर्ट प्रस्तुत की गई।
पहली रिपोर्ट 31 मार्च 2019 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष और दूसरी रिपोर्ट 31 मार्च 2020 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष से संबंधित है।
नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में रोड कनेक्टिविटी प्रोजेक्ट के तहत ठेकेदारों को अनुचित फायदा पहुंचाया गया। साल 2018-19 में सरकार के पास राजस्व आय 683.76 करोड़ सरप्लस था।।

जबकि 2019-20 में ये 9608.61 करोड़ घाटे में तब्दील हो गया। राजस्व व्यय में साल 2018-19 के मुकाबले 2019-20 में 9066.14 करोड़ की बढ़ोतरी हुई है।