breaking news New

प्रेमनगर के सरपंच संघ ने उप यंत्री ऋषि कांत के खिलाफ खोला मोर्चा

प्रेमनगर के सरपंच संघ ने उप यंत्री ऋषि कांत के खिलाफ खोला मोर्चा


सरपंच संघ का आरोप उप यंत्री आय दिन करते है अभद्रता, सरपंच संघ ने कहा, नहीं हुई कार्यवाही तो करेंगे आंदोलन 

सुरजपुर/प्रेमनगर, 5 दिसम्बर। जिले के प्रेमनगर जनपद पंचायत में अनिमियता रुकने का नाम नही ले रहा है। यहां के तकनीकी विशेषयों द्वारा आय दिन अनिमियता बरते जाने की शिकायत आती रहती है। प्रभारी एसडीओ के मत्थे प्रेमनगर जनपद के निर्माण कार्यो का संचालन हो रहा है। तो वहीँ एक इंजीनियर सहित कई तकनीकी सहायक के द्वारा कार्य कराया जा रहा है। उपयंत्री द्वारा फील्ड के बगैर साइड देखें गलत जगहों पर साइड सलेक्शन का कार्य किया जा रहा हैं। जिसको लेकर स्थानीय ग्रामीणों में काफी रोष है। ऐसे ही उप यंत्री के खिलाफ कई ग्रामो के स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने हल्ला बोलते हुए क्लेक्टर से लिखित शिकायत की है। शिकायत के महीनों गुजर जाने के बाद भी प्रशासन द्वारा कोई ठोस कार्यवाही नहीं की गई है। यहां तक कि शिकायतकर्ताओं तक का बयान लेना प्रशासन ऊचित नहीं समझा है। जिससे उपयंत्री समेत जनपद के अधिकारी, कर्मचारियों के हौसले बुलंद है। 

गौरतलब है कि जनपद पंचायत प्रेमनगर के उप यंत्री ऋषिकांत तिवारी द्वारा आये दिन ग्राम पंचायत के सरपंचों के साथ अभद्र व्यवहार किये जाने से नराज सरपंच संघ प्रेमनगर द्वारा जिला कलेक्टर से शिकायत कर उपयंत्री को  जनपद क्षेत्र से हटाये जाने की मांग किये थे। शिकायक्त के महीनों गुजर जाने के बाद भी कार्यवाही नहीं की गई है। जिससे नराज जन प्रतिनिधियों में काफी रोष व्याप्त है।

जनता से चुने हुए जनप्रतिनिधि व सरपंचों ने आज की जनधारा से बताया कि जनपद पंचायत में पदस्त उप यंत्री ऋषी कान्त तिवारी द्वारा निर्माण कार्य कराने के दौरान सरपंच सचिव व ग्रामीण मजदुरों से निर्माण स्थल हमेशा अभद्र व्यवहार करने गाली ग्लौज करते हुए चल रहे निर्माण कार्य में जान बुझ कर त्रुटी पूर्ण कार्य बता कर तोड़ फोड़ कराया जाता है।

आगे कहते है कि जिससे कार्य में प्रगती देने में काफी परेशानियो का सामना करना पड़ता है। 

उपयंत्री ऋषिकांत मुख्यालय में नहीं रहते है, प्रति दिन अम्बिकापुर से आना जाना करते है जिससे ग्राम पंचायत में चल रहे निर्माण कार्य  का समय पर मुल्यांकन नहीं हो रहा है। जिसके कारण मजदुरो को समय पर मजदुरी नहीं मिल पाती है। जिससे जन प्रतिनिधियों के समक्ष गम्भीर समस्या उत्पन्न हो जाती है। उप यंत्री द्वारा नये प्रक्कलन तैयार नहीं किये जाने व निर्माण स्थल पर कार्य का स्टीमेट एवं ड्राइंग भी उपलब्ध नहीं कराया जाता है। 

जिससे निर्माण कार्य कराने में काफी परेशानी होती है। सरपंचों ने बताया की इसके द्वारा स्टीमेंट बनाने से ले कर मूल्यांकन किये जाने व सीसी जारी करने पर हर बार रूपये मांगे जाते है। नहीं देने पर जान बुझ कर  मूल्यान्कन नहीं किया जाता व राशी काट देने की धमकी दी जाती है। 

जिससे नाराज जन प्रतिनिधियों ने कई बार जनपद प्रेमनगर के सीईओं, एसडीओ को  मौखिक शिकायत किये लेकीन कोई कार्यवाही नहीं किये जाने से नाराज सरपंचों ने जिला कलेक्टर सूरजपुर के समक्ष एक माह पूर्व शिकायत कर कार्य वाही की मांग किये थे। 

 लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नहीं होने से सरपंचो में काफी नाराजगी देखी जा रही सरपंचो ने बताया कि एक सप्ताह के अन्दर यदी कोई कार्यवाही नहीं कि जाती है तो हम आन्दोलन करने के लिये बाध्य होंगे। जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी जिला प्रशासन को होगी।

इस संबंध में जनपद पंचायत सीईओ एमएल वर्मा से पुछे जाने पर बताये कि उप यंत्री की शिकायत सरपंचों द्वारा कि गयी है जिला प्रशासन द्वारा जो भी आदेश दिया जायेगा उसके अधार पर कार्यवाही कि जायेगी।