breaking news New

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे से भारत की बड़ी संपत्ति पर खतरा

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे से भारत की बड़ी संपत्ति पर खतरा

नईदिल्ली। कांग्रेस ने कहा है कि अफगानिस्तान में तालिबान ने कब्जा कर लिया है और वहां भारत की बड़ी संपत्ति पर खतरा पैदा होने के साथ ही असंख्य भारतीय खतरे में आ गए हैं इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताना चाहिए कि उनकी सुरक्षित वापसी के लिए उनकी सरकार क्या कदम उठा रही है । कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने सोमवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि अफगानिस्तान कि स्थिति बहुत नाजुक मोड़ पर है और वहां दूतावास के कर्मचारियों के साथ ही अन्य भारतीयों का जीवन दांव पर लग गया है।उनकी सुरक्षित वापसी के लिए और वहा बदले राजनीतिक हालातों से पैदा परिस्थितियों के बीच रणनीतिक संबंधों को देखते हुए सरकार को देश को तथा विपक्ष को इसकी व्यापक जानकारी देनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि श्री मोदी को अब ज्यादा दिन तक चुप नहीं रहना चाहिए। उनकी चुप्पी भारतीय नागरिकों और अफगानिस्तान में भारत से संबंधित पक्षों के हित में नहीं है इसलिए इस बारे में जल्द से जल्द फैसला लेकर सरकार को अपने नागरिकों, दूतावास से जुड़े कर्मचारियों तथा अफगानिस्तान के साथ भविष्य की संबंधों को लेकर अपनी नीति स्पष्ट करनी चाहिए।

प्रवक्ता ने कहा कि तालिबान तथा हकानी नेटवर्क का पाकिस्तान के कुख्यात आईएसआई से सीधा संबंध है। इसी तरह से इन सब के कश्मीर में आतंकवाद फैलाने में शामिल जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकवादी संगठनों की संबंध है जिन्हें देखते हुए भारत सरकार को देश के हित में कदम उठाने चाहिए और इसकी उनकी जानकारी देश को देनी चाहिए ।