breaking news New

जयंत चौधरी की राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष पद पर ताजपोशी

जयंत चौधरी की राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष पद पर ताजपोशी

चौधरी खानदान की राजनीतिक विरासत संभालेंगे अजित के बेटे
नई दिल्ली । चौधरी अजीत सिंह के निधन के बाद से सबसे बड़ा सवाल तो यही था कि चौधरी खानदान की राजनीतिक विरासत को कौन संभालेगा? इन सबके बीच राष्ट्रीय लोक दल अपने एक बयान साझा किया है जिसमें पार्टी के नए अध्यक्ष के तौर पर जयंत चौधरी को चुने जाने की जानकारी दी गई है।
जयंत चौधरी को आरएलडी का अध्यक्ष उनके पिता अजीत सिंह के निधन के बाद चुना गया है। अजीत सिंह का निधन 6 मई को कोरोना वायरस संक्रमण के चलते दिल्ली में हो गया था। आरएलडी अध्यक्ष चुने जाने के लिए राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई जोकि ऑनलाइन की गई। जयंत चौधरी अभी तक पार्टी के उपाध्यक्ष थे। बैठक के दौरान पार्टी के महासचिव त्रिलोक त्यागी ने जयंत के नाम का प्रस्ताव रखा जिसका पूर्व सांसद एवं राष्ट्रीय महासचिव मुंशीराम पाल ने अनुमोदन किया। इस प्रस्ताव का कार्यकारिणी के सभी सदस्यों ने समर्थन किया। इसके बाद जयंत चौधरी को आरएलडी का अध्यक्ष चुना गया। जयंत चौधरी ने इसके लिए पार्टी के सदस्यों का आभार व्यक्त किया है और सभी नेताओं से चौधरी चरण सिंह और अजीत सिंह के पद चिन्हों पर चलने का आह्वान किया है।
इन सब के बीच कुछ सवाल ऐसे हैं जो जयंत चौधरी को लेकर उठते रहेंगे। अजीत सिंह के निधन के बाद से राजनीतिक गलियारों में दो सवाल पूछे जा रहे हैं। पहला सवाल तो यह है कि अजीत सिंह के बेटे जयंत चौधरी आखिर चौधरी खानदान की राजनीतिक विरासत को कितना संभाल पाएंगे और इसे कितना आगे बढ़ा पाएंगे? दूसरा सवाल यह है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश की जाट राजनीति का नया चेहरा कौन होगा? क्या अजीत सिंह की ही तरह उनके बेटे जयंत चौधरी जाट नेता के रूप में खुद को उभार पाएंगे?