सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन ही कोरोना की दवा, थूकने से वायरस फैलने की आशंका

सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन ही कोरोना की दवा, थूकने से वायरस  फैलने की आशंका


नईदिल्ली। देशभर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 79 हो गई है, जबकि 3300 से अधिक लोग संक्रमित हैं. अब तक देश में 274 जिलों में कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि सोशल डिस्टेंनसिंग और लॉकडाउन ही कोरोना की दवा है।सार्वजनिक स्थान पर थूकने से कोरोना फैलने की आशंका जताई है।  

विवार को स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि 372 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं. हॉटस्पॉट जिलों के डीएम से बात की गई है. अब तक 267 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं. लव अग्रवाल ने कहा कि आयुष्मान योजना के तहत कोरोना का फ्री टेस्ट और इलाज होगा. टेस्टिंग बढ़ाने पर सरकार का जोर है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने सार्वजनिक स्थान पर थूकने से कोरोना फैलने की आशंका जताई है. साथ ही तम्बाकू, गुटखा से परेहज करने की सलाह दी गई है. हालांकि कोरोना को हवा में फैलने वाला संक्रमण नहीं बताया है। 

chandra shekhar