breaking news New

कई उतार-चढ़ाव के बाद लीजेंड बनने की राह पर क्रिकेटर राहुल

कई उतार-चढ़ाव के बाद लीजेंड बनने की राह पर क्रिकेटर राहुल

मुम्बई।  यों तो क्रिकेट के तमाम खिलाड़ी आए दिन नए-नए रिकॉर्ड बनाकर सुर्खियों में बने रहते हैं, लेकिन एक-दो ही ऐसे होते हैं जो ना केवल अपने खेल से दिग्गजों को भी प्रभावित करते हैं बल्कि उनमें महान खिलाड़ी बनने का भी माद्दा होता है। अब केएल राहुल के रूप में भी भारत को एक ऐसा खिलाड़ी मिल गया है जिसमें लीजेंड बनने की खूबियां देखने को मिल रही हैं। कई उतार-चढ़ाव का सामना कर चुके राहुल का खेल लगातार निखरता जा रहा है और बतौर आईपीएल टीम के कप्तान की भूमिका में भी वह बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं।

इस जीत के बाद उन्होंने मैदान पर खेल के दौरान के कुछ पलों को तस्वीरों के जरिये पेश करते हुए लिखा कि आगे (की लड़ाई)। केएल राहुल ने स्वदेशी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कू ऐप पर अंग्रेजी और हिंदी पोस्ट करते हुए इस मैच की दो तस्वीरें शेयर करते हुए पहले फॉरवर्ड लिखा और फिर उसके आगे धनुष में लगा हुआ तीर वाला इमोजी लगाया।

राहुल की इस पोस्ट पर कमेंट करते हुए अनामिका नामक एक यूजर ने अपने कू रिप्लाई में लिखा- गावस्कर, कपिल देव, सचिन तेंदुलकर, धोनी, कोहली और फिर राहुल… खेल के लीजेंड्स

जबकि विवेक सिंह नामक यूजर ने केएल राहुल की इस कू पोस्ट के जवाब में लिखा- प्रतिबंधित किए जाने से लेकर मुख्य खिलाड़ी तक है… आप ने एक लंबी दूरी तय कर ली है… आगे बढ़ते रहिए

अश्वथ राव नाम के एक यूजर ने सोशल मीडिया ऐप के पर राहुल की पोस्ट के नीचे लिखा- लीजेंड बनने की राह पर… महान विचारक… शानदार प्रयास

राहुल की कप्तानी वाली लखनऊ सुपर जाएंट्स टीम ने शुक्रवार को पंजाब किंग्स के खिलाफ खेले गए आईपीएल 2022 के मुकाबले में 20 रन से शानदार जीत दर्ज की और इस सीजन का छठा मुकाबला जीता। पहले खेलते हुए लखनऊ सुपर जाएंट्स की टीम ने 153 रन बनाए। लखनऊ द्वारा दिए गए 154 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी पंजाब किंग्स इलेवन की टीम 20 ओवर में आठ विकेट खोकर 133 रन ही बना पाई और मुकाबला हार गई। वहीं, राहुल ने जीत के बावजूद अपनी बात सामने रखते हुए टीम की आलोचना करते हुए कहा कि हमनें बल्ले से बेवकूफी भरा खेल खेला। राहुल ने टीम के गेंदबाजों को जीत का श्रेय देते हुए कहा कि हमारे बैटिंग ऑर्डर में अनुभव है और हमें इसका पूरा फायदा उठाना चाहिए था। क्विंटन डिकॉक और दीपक हुडा के अलावा अगर बाकी के बल्लेबाज भी सोच समझकर बल्लेबाजी करते तो बड़े आराम से 180-190 का स्कोर खड़ा कर लेते। मैं टीम की बल्लेबाजी से निराश हूं।

वहीं, राहुल की तारीफ करते हुए टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर ने कहा कि आईपीएल में लखनऊ टीम के कप्तान ने अपने खेल से यह साबित कर दिया है कि कि तेजी से रन बनाने के लिए आपको नए तरह के शॉट ईजाद करने की जरूरत नहीं हैं। अगर आपके पास शॉट है, तो उसका सही चयन करें और उनके सभी शॉट के चयन बेहतरीन रहे हैं। वह शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि केएल राहुल की बल्लेबाजी में सबसे अच्छी बात यह है कि उनकी शैली में कुछ भी बनावटी नहीं है और वह जो भी शॉट खेलते हैं वह क्रिकेट का नेचुरल शॉट है। लखनऊ ने पंजाब को हराने के बाद दिल्ली कैपिटल्स को कल छह रन से हराया और इस जीत में राहुल ने 77 रनों की मैच विजयी पारी खेली।

आईपीएल के इस सीजन में पहली बार शामिल हुई बिल्कुल नई टीम लखनऊ सुपर जाएंट्स ने अपने प्रदर्शन से सभी का ध्यान खींचा है और अब तक खेले गए 10 में सात मुकाबले अपने नाम किए हैं। वहीं, राहुल इस सीजन के सबसे सफल कप्तान होने का खिताब अपने नाम कर सकते हैं क्योंकि इस सीजन में वह सर्वाधिक रन बनाने वाले कप्तान हैं। आईपीएल 2022 में उन्होंने 10 मैचों में 451 रन बनाए हैं। इनमें दो शतक और दो अर्धशतक शामिल हैं जबकि इसके लिए उन्होंने अब तक इस सीजन में 38 चौके और 20 छक्के जड़े हैं। सीजन के टॉप स्कोरर की सूची में राहुल जोस बटलर के बाद दूसरे नंबर पर हैं।

राहुल के बेहतरीन खेल की बात करें तो यह दुनिया के इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने तीनों क्रिकेट फॉर्मेट यानी टेस्ट, वनडे और टी20 में छक्का जड़कर अपना शतक लगाया। राहुल ने 2014 में मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच में डेब्यू किया था। इसके बाद 2016 में हरारे में जिम्बॉब्वे के खिलाफ और फिर इसी साल जिम्बॉब्वे के खिला टी 20 में भी डेब्यू किया था।

वहीं, 11 जनवरी 2019 को एक टेलीविजन शो के दौरान आपत्तिजनक बयान देने पर बीसीसीआई ने केएल राहुल और हार्दिक पांड्या को सस्पेंड कर दिया था। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले एकदिवसीय मैचों की श्रंखला से पहले उन्हें घर भेज दिया गया था। हालांकि 24 जनवरी 2019 को बीसीसीआई ने इस सस्पेंशन को समाप्त कर दिया था। इस वर्ष राहुल ने जनवरी में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच में भारतीय टीम की कप्तानी की और बतौर कप्तान पहले ही मैच में अर्धशतक जड़ा। जबकि इसके बाद शुरू हुई वनडे सीरीज में उन्होंने भारतीय टीम की कप्तानी की।