breaking news New

आंध्र में किसी भी कर्मचारी को स्कूलों, आंगनवाडिय़ों से नहीं हटाया जाएगा : रेड्डी

आंध्र में किसी भी कर्मचारी को स्कूलों, आंगनवाडिय़ों से नहीं हटाया जाएगा : रेड्डी

अमरावती। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी ने आश्वासन दिया कि नई शिक्षा नीति (एनईपी) को लागू करने की प्रक्रिया में राज्य के स्कूलों और आंगनवाड़ी केंद्रों से एक भी कर्मचारी को नहीं हटाया जाएगा।
उन्होंने यह भी आश्वासन दिया कि कोई भी आंगनवाड़ी केंद्र बंद नहीं किया जाएगा और स्पष्ट किया कि शिक्षा प्रणाली में बदलाव इन दो कारकों को ध्यान में रखकर लागू किया जा रहा है।
रेड्डी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि दो तरह के स्कूल स्थापित किए जाएं। प्रारंभिक कक्षा 1 और 2 वाली पहली कक्षा छात्रों से एक किलोमीटर की दूरी के भीतर होनी चाहिए। कक्षा 3 से कक्षा 10 तक के अन्य विद्यालय छात्रों से 3 किमी की दूरी के भीतर स्थित होने चाहिए।
मुख्यमंत्री के मुताबिक फाउंडेशन कोर्स में शिक्षक-छात्र अनुपात संतुलित रखना जरूरी है, क्योंकि आठ साल से कम उम्र के बच्चों का मानसिक विकास जरूरी है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार का लक्ष्य गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करना है, और राज्य की शिक्षा नीति को एनईपी के साथ तालमेल बिठाने का आह्वान किया।