breaking news New

चुनावी रैली में वीवीआईपी विमान का इस्तेमाल करने को लेकर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी को घेरा

चुनावी रैली में वीवीआईपी विमान का इस्तेमाल करने को लेकर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी को घेरा

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चुनावी रैली में जाने के लिए वीवीआईपी विमान का इस्तेमाल करने को लेकर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा है। पश्चिम बंगाल कांग्रेस के प्रमुख अधीर रंजन चौधरी ने चुनाव आयोग से बंगाल में राजनीतिक रैलियों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा वीवीआईपी एयरक्राफ्ट इस्तेमाल किए जाने की शिकायत की है।

अधीर रंजन चौधरी ने पीएम मोदी की शिकायत कर चुनाव आयोग से इस मामले में जरूरी कार्रवाई करने की अपील की है।
मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को लिखे पत्र में अधीर रंजन चौधरी ने कहा, किसी भी आधिकारिक दौरे पर प्रधानमंत्री की सुरक्षा को अहम माना जाता है, मगर जब प्रधानमंत्री एक राजनीतिक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए आते हैं, तो इससे किसी अन्य राजनीतिक नेता का उत्पीडऩ नहीं होना चाहिए। देरी की वजह से मुझे उत्पीडऩ का शिकार होना पड़ा और मुझे अपनी पूर्व नियोजित राजनीतिक कार्यक्रम को रद्द करना पड़ा।

उन्होंने आगे लिखा, मुझे नहीं पता कि क्या अन्य गतिविधियों को रोकना पीएम के राजनीतिक कार्यक्रम का हिस्सा है। जब मैं रेल मंत्रालय में बतौर रेल राज्यमंत्री था, तो कभी अपनी सलून कार को चुनावी उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल नहीं किया। मुझे समझ नहीं आ रहा कि क्या राजनीतिक रैलियों में भाग लेने के लिए वीवीआईपी एयरक्राफ्ट (जो विदेशी यात्रा के लिए है) उसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

चुनाव आयोग से उन्होंने कहा, जब भारत इतना गरीब देश है, सभी सरकारी कर्मचारियों ने कोरोना महामारी की स्थिति के दौरान कुछ दिनों के वेतन का त्याग किया, मतदाताओं को लगातार दो वर्षों तक अपने संबंधित क्षेत्र में सांसद निधि विकास कार्य के धन से वंचित होना पड़ा है। यह सब जानकारी आपके लिए है, ताकि आवश्यक कार्रवाई की जाए।

पश्चिम बंगाल विधानसभा का कार्यकाल 30 मई को समाप्त हो रहा है। 17वें विधानसभा चुनाव के लिए  7,34,07,832 वोटर्स उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला 27 मार्च से जारी है। पश्चिम बंगाल में कुल आठ चरणों में चुनाव होंगे। दो चरण के चुनाव संपन्न हो चुके हैं और तीसरे चरण में 31 सीटों पर 6 अप्रैल को, चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को, पांचवें चरण में 45 सीटों पर 17 अप्रैल को, छठे चरण में 43 सीटों पर 22 अप्रैल को, सातवें चरण में 36 सीटों पर 26 अप्रैल को और आठवें और अंतिम चरण में 35 सीटों पर 29 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। वहीं, पांच राज्यों में एक साथ 2 मई को नतीजे घोषित किए जाएंगे।