breaking news New

ब्रेकिंग : अभिनेता दीप सिद्धू को तलाश कर रही पुलिस, पुलिस ने दर्ज की 15 एफआईआर, ट्रैक्टर रैली में हिंसा का मुख्य आरोपी बताया जा रहा, सिद्धू ने कहा, 'निशान साहब अन्याय के खिलाफ लड़ाई का प्रतीक'

ब्रेकिंग : अभिनेता दीप सिद्धू को तलाश कर रही पुलिस, पुलिस ने दर्ज की 15 एफआईआर, ट्रैक्टर रैली में हिंसा का मुख्य आरोपी बताया जा रहा, सिद्धू ने कहा, 'निशान साहब अन्याय के खिलाफ लड़ाई का प्रतीक'

नई दिल्ली. देश में गणतंत्र दिवस के दिन राजधानी दिल्ली में किसानों के ट्रैक्टर रैली के दौरान कई जगहों पर हिंसा हुई. इस दौरान कई किसान और पुलिसकर्मी जख्मी हो गए. दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी में किसानों की ट्रैक्टर परेड के मामले में 15 एफआईआर दर्ज की है. पूर्वी जिले में 5 प्राथमिकी दर्ज की गयी है, वहीं द्वारका में तीन तथा शाहदरा जिले में एक मामला दर्ज किया गया है.'

पंजाबी अभिनेता-गायक-एक्टिविस्ट दीप सिद्धू को इस हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया जा रहा है. उन्होंने किसान यूनियनो पर आरोप लगाया है कि लाल किले की ओर युवाओं को ले जाने में किसान संगठनों का हाथ है.  भारतीय अभिनेता दीप सिद्धू ने गाजीपुर में किसानों को संबोधित करते हुए 'दिल्ली चलो' का नारा दिया था.

मई 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान, दीप सिद्धू बॉलीवुड अभिनेता-राजनीतिज्ञ सनी देओल के करीबी होने के लिए चर्चा में थे, जिन्होंने गुरदासपुर से भाजपा के उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा था। दीप सिद्धू को अपने अभियान में भाग लेते देखा तो देओल ने एक ट्वीट में सिद्धू से खुद को दूर कर लिया था. उन्होंने कहा कि उनका या उनके परिवार का कोई रिश्ता नहीं है.

दीप सिद्धू की लाल किले पर नारे लगाने वाली एक वीडियो क्लिप भी मंगलवार दोपहर से वायरल हो गई है।
बाद में, अपने फेसबुक अकाउंट पर एक वीडियो में, दीप सिद्धू ने कहा कि जब वास्तविक अधिकारों या चिंताओं पर ध्यान नही दिया जाता तो क्रोध किसी भी विरोध में भड़क जाता है। “जो कुछ भी हुआ उसके लिए हम किसी व्यक्ति पर आरोप नहीं लगा सकते।

सिद्धू ने कहा कि हम अपने लोकतांत्रिक अधिकार का प्रयोग करने और देश की एकता और विविधता को चुनौती नहीं देने के लिए, प्रतीकात्मक रूप से अपना विरोध दर्ज कराने के लिए लाल किले पहुंचे। हमने एक खाली जगह पर निशान साहिब और किसान झंडा लगाया है। तिरंगा नहीं हटाया गया। किसी को भी इसे सांप्रदायिक रंग नहीं देखना चाहिए। निशान साहब अन्याय के खिलाफ लड़ाई का प्रतीक हैं.

जानकारी के मुताबिक और भी मामले दर्ज होने के आसार हैं. राष्ट्रीय राजधानी में हुई हिंसा की घटना को देखते हुए पंजाब और हरियाणा सरकार ने हाई अलर्ट जारी किया है. पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हाई अलर्ट का आदेश जारी करते हुए पुलिस से क़ानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए कहा है. हरियाणा के सोनीपत, पलवल और झज्जर जिले में एहतियातन इंटरनेट आज शाम पांच बजे तक के लिए बंद कर दी गई है.