ड्यूटी के दौरान मानवता का परिचय देते हुए नाबालिक बच्चे को परिजन के सुपुर्द किया

ड्यूटी के दौरान मानवता का  परिचय देते हुए नाबालिक बच्चे को परिजन के सुपुर्द किया


धमतरी, 5 अप्रैल। कोरोना वायरस (Covid-19) वैश्विक महामारी के रूप में फैल रहा है जिसके संक्रमण से बचाव, नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु पुलिस अधीक्षक महोदय बी.पी. राजभानु के निर्देशानुसार एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे के मार्गदर्शन में सभी थाना क्षेत्र अंतर्गत सरहदी नाकेबंदी प्वाइंटों में आने जाने वाले व्यक्तियों व वाहनों की चेकिंग की जा रही है ।

 इसी दौरान एक नाबालिग बालक उम्र करीब 11 वर्ष थाना मगरलोड क्षेत्र अंतर्गत अमलीडीह नाकाबंदी पॉइंट से गुजर रहा था, जिसे ड्यूटी में लगे जवानों के द्वारा रोक कर पूछताछ किया गया जिसमें आज सुबह 8 बजे अपनी मां से झगड़ा होने पर नाराज होकर घर गांव खैरझिटी छोड़कर आना बताया, तब ड्यूटीरत जवानों के द्वारा ग्राम अमलीडीह के कोटवार से संपर्क कर नाबालिग बालक के पिता धन्नु यादव को बुलाकर बच्चे की देख-रेख करने एवं कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव संबंधी समझाइश देकर उसे सुपुर्द किया गया।

          इस प्रकार अमलीडीह नाकाबंदी पॉइंट में तैनात पुलिस कर्मचारी प्रधान आरक्षक मेघराज निषाद, आरक्षक सेवक रंगारी एवं नगर सैनिक राधेश्याम के द्वारा ड्यूटी के दौरान मानवता का  परिचय देते हुए नाबालिक बच्चे को उसके परिजन को सुपुर्द किया गया है ।