breaking news New

समूह की महिलाओं के आय का जरिया बना मछली पालन

समूह की महिलाओं के आय का जरिया बना मछली पालन

    रायपुर। मछली पालन ढोलिया गांव की स्वसहायता समूह की महिलाओं के आय का जरिया बन गया है। बेमेतरा जिले की ग्राम ढोलिया की मां दुर्गा महिला स्वसहायता समूह की 10 महिलाओं ने एक्सटेंशन रिफार्म्स (आत्मा) योजना से जुड़कर मछली उत्पादन कर रही है। अभी हाल में ही समूह द्वारा दो क्विंटल मछली का उत्पादन किया गया, जिसे बेचकर महिलाओं ने 20 हजार रूपए का लाभ प्राप्त किया है। मॉ दुर्गा महिला स्वसहायता समूह की श्रीमती मधुबाई ने बताया कि परिवार की भरण पोषण के लिए खेती किसानी के काम में अपने पति का सहयोग करती है। परंतु इससे उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत नही हुई। ढोलिया गांव की 52 वर्षीय मधु बाई ने गांव की अन्य महिलाओं के साथ मिलकर समूह बनाया और कृषि विभाग के आत्मा योजना के तहत खाद्य सुरक्षा समूह (एफएसजी) से जुड़ी और ग्राम ढोलिया के तालाब में मछली पालन करने लगी है।