बिहार : एलजेपी वोटकटवा पार्टी से डर रहे सब राजनीति दल, तरह -तरह की कर रहे बयान जारी

बिहार : एलजेपी वोटकटवा पार्टी से डर रहे सब राजनीति दल, तरह -तरह की कर रहे बयान जारी

नईदिल्ली।   चुनाव से ठीक पहले बिहार में एनडीए से अलग होकर चुनाव लड़ रही एलजेपी को लेकर बीजेपी नेता लगातार बयानबाजी कर रहे हैं.बीजेपी ने एक बार फिर स्पष्ट किया है कि एलजेपी बिहार में बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व का नाम लेकर वोटरों को गुमराह करने की कोशिश कर रही है.

भाजपा के  प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि एलजेपी बिहार के चुनावों में कोई प्रभाव नहीं डाल पाएगी. एलजेपी बिहार के चुनावों में सिर्फ एक वोटकटवा पार्टी बनकर रह जाएगी. प्रकाश जावड़ेकर ने स्पष्ट किया है कि बिहार में केवल चार पार्टियां (बीजेपी, जेडीयू, हम और वीआईपी) ही साथ मिलकर चुनाव लड़ रही हैं.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि चिराग पासवान ने बिहार में एक अलग रास्ता चुना है, वह बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं का नाम लेकर लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं. हमारी कोई B या C टीम नहीं है. इसके साथ ही जावड़ेकर ने दावा किया कि  NDA को बिहार के चुनावों में तीन-चौथाई बहुमत मिलेगा और चिराग की पार्टी वोटकटवा पार्टी के रूप में सामने आएगी.

भूपेंद्र यादव ने शुक्रवार को किए गए अपने ट्वीट में लिखा है, "प्रधानमंत्री जी के नाम के इस्तेमाल पर चिराग पासवान भ्रम पैदा करना चाहते हैं. बिहार चुनाव में एनडीए में 'BJP-JDU-VIP व HAM' गठबंधन में हैं. LJP से न हमारा गठबंधन है, न ही चुनाव में वो NDA का हिस्सा हैं. चिराग को न भ्रम में रहना चाहिए, न भ्रम पालना चाहिए और न भ्रम फैलाना चाहिए."

संबित पात्रा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि बीजेपी की कोई बी, सी या डी टीम नहीं है. एलजेपी बिहार की जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रही है. हमारी केवल एक टीम है जिमसें बीजेपी, जेडीयू, हम और वीआईपी शामिल है. एलजेपी अपने अस्तित्व के लिए संघर्ष कर रही है.