breaking news New

सेंट्रल विस्टा : नहीं बन रहे उपराष्ट्रपति व पीएम आवास, सिर्फ नए संसद भवन पर हो रहा काम : हरदीप पुरी

सेंट्रल विस्टा : नहीं बन रहे उपराष्ट्रपति व पीएम आवास, सिर्फ नए संसद भवन पर हो रहा काम :  हरदीप पुरी

 नई दिल्ली । सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर विवाद के बीच केंद्र सरसकार ने विपक्षी दलों के उन आरोपों को खारिज कर दिया है, कि सेंट्रल विस्टा परियोजना में उपराष्ट्रपति व प्रधानमंत्री के नए आवास पर भी काम किया जा रहा है। सरकार ने तर्क दिया कि केवल नए संसद भवन और सेंट्रल विस्टा एवेन्यू पर काम किया जा रहा है।

केंद्रीय आवासन एवं शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी ने कहा कि विपक्ष नए प्रधानमंत्री आवास को लेकर जो हो-हल्ला मचाया जा रहा है और जिसे मोदी महल का नाम दिया जा रहा है वह अभी कहीं है ही नहीं। अभी केवल सेंट्रल विस्टा परियोजना के दो प्रोजेक्ट पर ही काम हो रहा है जिनको आजादी की 75वीं सालगिरह के मौके पर 2022 तक पूरा करना है। इसमें नया संसद भवन जिसकी लागत लगभग 900 करोड़ रुपये है और राजपथ की दोनों और विकसित होने वाला सेंट्रल विस्टा एवेन्यू जिसकी लागत लगभग 400 करोड रुपए पर ही काम जारी है। अभी तक केवल इन दोनों परियोजनाओं के ही ठेके हुए हैं। इसके अलावा केंद्रीय सचिवालय के लिए तीन भवनों के निर्माण के टेंडर की प्रक्रिया शुरू हुई है।

उन्होंने कहा है कि इस परियोजना में महज 1300 करोड़ रुपए की परियोजनाओं पर ही काम हो रहा है। इनके ठेके 2019 में ही बुला लिये गये थे। इनमें लगभग 900 करोड़ों रुपए की लागत वाला नया संसद भवन और 400 करोड़ रुपए की लागत से विकसित होने वाला सेंट्रल विस्टा एवेन्यू शामिल है। पुरी ने कहा कि अगर परियोजना का काम रोका जाता है तो इससे सैकड़ों मजदूर और कर्मचारी प्रभावित होंगे।

मीरा कुमार ने शुरू कराई थी नए संसद भवन की परियोजना
पुरी ने कहा कि नए संसद भवन का परियोजना का काम 2012 में तत्कालीन कांग्रेस सरकार के समय लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने शुरू करवाया था। उन्होंने कहा कि संसद भवन ब्रिटिश काल में बना था और उस समय आजाद भारत की कल्पना ही नहीं थी। तब यह पूरा वायसराय के नियंत्रण में था, जबकि आजादी के बाद यह पूरा क्षेत्र सार्वजनिक हो गया है। ऐसे में आजाद भारत की सरकार के हिसाब से भवनों का निर्माण किया जाना है। इसमें भी हेरिटेज भवन संसद भवन, नॉर्थ ब्लॉक, साउथ ब्लॉक और  नेशनल आर्काइव को जैसे का तैसा ही रहने दिया जाएगा।