कंगना पर सांप्रदायिक नफ़रत फैलाने का आरोप

कंगना पर सांप्रदायिक नफ़रत फैलाने का आरोप

मुंबई की एक अदालत ने फ़िल्म अभिनेत्री कंगना रनौत पर सांप्रदायिकता फैलाने के आरोपों में एफ़आईआर दर्ज करने का आदेश दिया है.

कंगना ने इस पर ट्वीट किया, "इसी बीच मेरे ख़िलाफ़ एक और एफ़आईआर दर्ज, लगता है महाराष्ट्र में पप्पू सेना मेरे पीछे पागल हो गई है, मुझे इतना मिस मत करो, मैं जल्द ही वहां आउंगी."

मुनव्वर अली नाम के एक शिकायतकर्ता ने कंगना और उनकी बहन रंगोली पर समाज में सांप्रदायिक नफ़रत फैलाने का आरोप लगाते हुए अदालत में याचिका दायर कर उन पर एफ़आईआर दर्ज किए जाने की मांग की थी.

बांद्रा की एक मजिस्ट्रेट कोर्ट ने कंगना और उनकी बहन पर लगाए आरोपों को प्रथम दृष्टया सही पाते हुए उन पर एफ़आईआर दर्ज करने का आदेश दे दिया है.

कास्टिंग डायरेक्टर का काम करने वाले मुनव्वर अली ने कंगना पर आईपीसी की कई धाराओं के तहत मुक़दमा दर्ज करने की मांग की थी.

मजिस्ट्रेट जयदेव घुले ने अपने आदेश में कहा, "अधिवक्ता को सुनने और साथ में पेश दस्तावेज़ों को देखने के बाद, प्रथम दृष्ट्या मुझे ये लगता है कि अभियुक्त ने संज्ञेय अपराध (कॉग्निज़ेबल ऑफेंस) किया है."