breaking news New

मानवाधिकारों की उल्लंघन करने वाली सरकार का समर्थन नहीं करेंगे’

मानवाधिकारों की उल्लंघन करने वाली सरकार का समर्थन नहीं करेंगे’

’वाशिंगटन।  अमेरिका ने कहा है कि यदि अफगानिस्तान की नयी तालिबान सरकार आतंकवादियों का पनाहगार बनती है और वहां लोगों के बुनियादी अधिकारों का हनन करती है, तो वह उसका समर्थन नहीं करेगा।

अमेरिका के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने सोमवार को संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा, “यदि अफगानिस्तान की नयी सरकार अपने देश के निवासियों के मूल अधिकारों की रक्षा करती है। आतंकवादियों को पनाह नहीं देती है और अपनी आधी आबादी यानी महिलाओं तथा लड़कियों के बुनियादी मौलिक अधिकारों सहित वहां के नागरिकों के बुनियादी अधिकारों की रक्षा करती है, तो हम उसके साथ काम कर पाएंगे।" उन्होंने कहा, “यदि वहां की सरकार ऐसा नहीं करती है, तो हम उसका समर्थन नहीं करेंगे।”