breaking news New

Breaking : वर्धा आश्रम में कांग्रेसी, सुबह उठकर गाए बापू के भजन, खेतों में किया श्रमदान, चरखा कातने का प्रशिक्षण और अनुशासित दिनचर्या

Breaking : वर्धा आश्रम में कांग्रेसी, सुबह उठकर गाए बापू के भजन, खेतों में किया श्रमदान, चरखा कातने का प्रशिक्षण और अनुशासित दिनचर्या


अनिल द्विवेदी

रायपुर. महाराष्ट्र में गांधीजी के वर्धा आश्रम में प्रशिक्षण लेने के लिए पहुंचे प्रदेश कांग्रेस के 85 पदाधिकारियों ने आज अनुशासित दिनचर्या के साथ प्रशिक्षण की शुरूआत की.

सबसे पहले शांति भवन में प्रात:कालीन प्रार्थना वैष्णव जन तो तेणें कहिए सुनी और गाई और उसके बाद खेतों में जाकर श्रमदान किया. इसके तहत साफ सफाई की गई और स्वच्छता का संकल्प लिया. गौशाला और बाग बगीचों में भी गायों की सेवा और साफ सफाई की गई.

एक नेता ने बताया कि उन्हें अनुशासित दिनचर्या में रखा गया है. दोपहर में चरखा चलाने, स्वाध्याय करने, भजन गाने, गांधीजी के प्रवचन सुनने इत्यादि कार्यक्रम रखे गए हैं. पार्टी वरिष्ठ जन और आश्रमों के कार्यकर्ता उनके साथ हैं. पूरा माहौल गांधीमय लग रहा है. एक नेता ने बताया कि वैसे तो वह रोज सुबह जागिंग पर निकलते हैं लेकिन गांधीजी के आश्रम में समय बिताना जीवन का कीमती पल है.



तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता मिलकर साफ सफाई कर रहे हैं. इनमें प्रभारी महामंत्री चंद्रशेखर शुक्ला, शहर कांग्रेस अध्यक्ष गिरीश दुबे, आसिफ मेनन, कोको पाढ़ी, शैलेष नितिन त्रिवेदी इत्यादि नेता दिखाई दे रहे हैं.

प्रदेश प्रभारी पी एल पुनिया, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम, मीडिया प्रभारी शैलेष नितिन त्रिवेदी, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजेश तिवारी दल का नेतृत्व कर रहे हैं. सभी 12 जनवरी से 14 जनवरी तक आश्रम में गांधीगिरी ​सीखेंगे तथा उनके विचारों से रूबरू होंगे.