breaking news New

केंद्रीय गृहमंत्री के घर पर चलना चाहिए बुल्डोजर, उससे दंगे रूकेंगे

 केंद्रीय गृहमंत्री के घर पर चलना चाहिए बुल्डोजर, उससे दंगे रूकेंगे

नई दिल्ली। देश के अंदर अगर दंगों को रोकना है, तो बुल्डोजर भाजपा के मुख्यालय पर चलना चाहिए, यह बात आज आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य राघव चड्ढा ने कही। उन्होंने कहा कि देश भर में जगह-जगह दंगे, गुंडई और लफंगई भाजपा करवा रही है। पहले २०२० में दंगे कराए, फिर २०२२ में दंगे कराए। केंद्रीय गृहमंत्री खुद ये दंगे करवा रहे हैं।

उनके घर पर बुल्डोजर चलना चाहिए, उससे दंगे रूकेंगे। अगर बुल्डोजर चलना है, तो भाजपा के उन नेताओं के घर पर भी चलना चाहिए, जिन्होंने पैसे खाकर अवैध निर्माण करवाए। च्आपज् की वरिष्ठ नेता आतिशी ने कहा कि भाजपा के नेताओं ने देश के अलग-अलग हिस्सों में बांग्लादेशी और रोहिंग्या को बसा दिया, ताकि वे गुंडागर्दी, दंगे और हिंसा करवा सकें।

भाजपा लिस्ट दे कि पिछले आठ साल में उसने किसको कहां बसाया है? उससे पता चल जाएगा कि भाजपा दूसरा दंगा कहां करवाने वाली है। वहीं, च्आपज् के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज का कहना है कि रोहिंग्या को सिर्फ और सिर्फ केंद्र सरकार ही अंदर ला सकती है। हमारा मानना है कि दंगे कराने के लिए ही भाजपा ने इनको अलग-अलग जगहों पर बसाया है।

वहीं, आप के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य संजय सिंह का कहना है कि भाजपा के दफ्तर और अमित शाह के घर पर बुल्डोजर चलना चाहिए। ये ना हिंदू के हैं, ना मुसलमान के हैं और ना ही देश के हैं। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य राघव चड्ढा ने जहांगीरपुरी में अवैध निर्माण के खिलाफ चलाए गए बुल्डोजर के संबंध में कहा कि देश भर में जगह-जगह दंगे भारतीय जनता पार्टी करवा रही है। गुंडई और लफंगई सरेआम भारतीय जनता पार्टी करवा रही है।

अगर भारत देश में दंगे रोकने हैं, तो भारतीय जनता पार्टी के मुख्यालय पर बुल्डोजर चलाइए। हम गारंटी देते हैं कि अगर भाजपा के मुख्यालय पर बुल्डोजर चलेगा, तो दंगे रूक जाएंगे। यही लोग दंगे कराते हैं। दिल्ली का क्या माहौल बना दिया। उन्होंने कहा कि हम देख रहे हैं कि दिल्ली में आए दिन ये लोग दंगे करवाते हैं। २०२० में नार्थ-ईस्ट दिल्ली में दंगे हुए और आज जहांगीरपुरी में दंगे हुए। भाजपा यह दंगे कराती है। केंद्रीय गृहमंत्री जी खुद ये दंगे करवा रहे हैं।

अगर बुल्डोजर चलाना है, तो केंद्रीय गृहमंत्री जी के घर पर बुल्डोजर चलाइए, उससे दंगे रूकेंगे। राज्यसभा सदस्य राधव चड्ढा ने कहा कि पिछले ८ सालों में भाजपा ने पूरे देश में जगह-जगह सबसे ज्यादा तादात में बांग्लादेशी और रोहिंग्या को बसाया। भाजपा ने इनको इसलिए बसाया है कि उनका इस्तेमाल कर दंगे कराया जाए। अगर आपको यह जानना है कि भाजपा अगला दंगा कहां प्लान करने जा रही है और किस स्तर का प्लान करने जा रही है, तो भाजपा ने कहां-कहां बांग्लादेशी और रोहिंग्या को बसाया है, उसकी सूची ले लें। उस सूची से पता लग जाएगा कि भाजपा ने कहां-कहां दंगे का प्लान किया हुआ है।

मैं पूछना चाहता हूं कि भाजपा बताए कि भाजपा ने देश भर में कहां-कहां बांग्लादेशी और रोहिंग्या को बसाया है। उसी से पता लग जाएगा कि इनकी अगली प्लानिंग क्या है? १५ सालों से भाजपा के नेताओं ने पैसे खा-खाकर अवैध निर्माण कराया। मैं कहना चाहता हूं कि अवैध निर्माण के साथ-साथ भाजपा के उन नेताओं के घर भी तोडऩे चाहिए, जिन नेताओं ने पैसे खाकर यह अवैध निर्माण कराया।

एमसीडी में भाजपा पिछले १५ सालों से सत्ता पर काबिज है। यह सारा अवैध निर्माण ये लोग रिश्वत खाकर खुद करवाते हैं। मेरा कहना है कि बुल्डोजर अगर चलना है, तो उन नेताओं के घर पर भी चलना चाहिए, जिन लोगों ने पैसे खाकर ये अवैध निर्माण करवाए।आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं विधायक आतिशी ने कहा कि भाजपा शासित एमसीडी ने आज जहांगीरपुरी में बुल्डोजर चलवाया।

एमसीडी कह रही है कि बुल्डोजर चलाने से, अतिक्रमण हटाने से दंगे रूक जाएंगे। लेकिन वास्तविक तौर पर तो ये गुंडागर्दी, ये हिंसा और ये दंगे खुद भाजपा करवा रही है। सिर्फ दिल्ली में ही नहीं, देश भर में हर तरह की गुंडागर्दी, हिंसा और लफंगई भाजपा करवा रही है। अगर आज इस देश में अगर हमें दंगे रोकने हैं, गुंडागर्दी और लफंगई रोकनी है, तो बुल्डोजर भाजपा के मुख्यालय पर चलना चाहिए।

अगर भाजपा के मुख्यालय पर बुल्डोजर चल गया, उसके बाद देश में कहीं दंगे नहीं होंगे। आज पूरे देश में दंगे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह करवा रहे हैं। भाजपा का जो पुलिस का प्रशासन है, जो कहीं पर भी गुंदागर्दी पर आवाज नहीं उठाता है। जिस दिन अमित शाह जी के घर पर बुल्डोजर चल गया, उस दिन दंगे, गुंडागर्दी और लफंगई पूरे देश में रूक जाएगी।

ये भाजपा के नेता हैं, जिन्होंने देश के अलग-अलग हिस्सों में बांग्लादेशी और रोहिंग्या को बसा दिया, ताकि वे इस तरह की गुंडागर्दी, दंगे और हिंसा करवा सकें। च्आपज् के वरिष्ठ नेता आतिशी ने कहा कि भाजपा लिस्ट निकाल कर दे कि पिछले आठ साल में उसने किसको कहां बसाया है, उससे ही साफ पता चल जाएगा कि भाजपा अपना दूसरा दंगा कहां करवाने वाली है।

आज भाजपा शासित एमसीडी कह रही है कि हम अतिक्रमण हटाएंगे। इस पर हम पूछना चाहते हैं कि पिछले १५ साल से, जब एमसीडी में भाजपा का शासन था, तो तब भाजपा को क्यों नहीं ख्याल आया। इसलिए ख्याल नहीं आया, क्योंकि लोगों को अतिक्रमण करवाने में, लोगों को अवैध बसाने में, भाजपा के नेताओं का हाथ है। भाजपा के पार्षदों ने पैसा खाया है। भाजपा के पार्षदों ने यह अवैध अतिक्रमण करवाया है।

यही कारण है कि आज दिल्ली और पूरे देश में इस तरह की गुंदागर्दी फैल रही है। आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक सौरभ भारद्वाज ने कहा कि पिछले १५ दिनों में, रामनवमी से लेकर हनुमान जयंती तक देश के अलग-अलग सात राज्यों के अंदर भाजपा ने दंगे कराए। एक तय पटकथा से दंगे कराए जा रहे हैं। देश के अंदर अगर दंगों को रोकना है, तो यह बुल्डोजर भाजपा के मुख्यालय पर चलाना पड़ेगा। आप भाजपा का मुख्यालय को खत्म कर दो, तुरंत देश के अंदर हमेशा के लिए समाप्त हो जाएंगे। पिछली बार केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह जी ने २०२० में दिल्ली के अंदर दंगे कराए। अभी भी अमित शाह जी केंद्रीय गृहमंत्री हैं। उनके कारण दिल्ली में दोबारा दंगे हुए।

अमित शाह जी के घर को ध्वस्त कर दो, उस पर बुल्डोजर चला दो, दिल्ली और पूरे देश में दंगे होने बंद हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि पिछले ८ साल से भाजपा की केंद्र में सरकार है। भाजपा ने देश के अगल-अलग राज्यों और अलग-अलग शहरों में रोहिंग्या और बांग्लादेशियों को बसाया। कोई राज्य सरकार इनको नहीं बसा सकती है। यह सिर्फ और सिर्फ केंद्र सरकार ही है, जो बाहर से इनको अंदर ला सकती है। भाजपा यह बताए कि उसने इनकों कहां-कहां बसाया है। हमारा यह मानना है कि दंगे कराने के लिए ही इन लोगों को भाजपा ने अगल-अलग जगहों पर बसाया है।

विधायक सौरभ भारद्वाज ने एक सवाल के जवाब में कहा कि दिल्ली का हर आदमी यह बात जानता है कि दिल्ली के अंदर अगर अवैध कब्जा होता है, अवैध निर्माण होता है, अतिक्रमण या कब्जे होते हैं, तो यह भाजपा शासित नगर निगम के अंदर आता है। पिछले १५ सालों से यह कब्जें क्यों हो रहे हैं? पिछले १५ साल से तो दिल्ली नगर निगम में भाजपा की सरकार है।

पहले तो इन्होंने रिश्वत खाकर इन लोगों को यहां बसाया और सरकारी जमीन पर कब्जे कराए। अवैध निर्माण कराया, उनसे पैसा लिया और आज उनको तोड़ रहे हैं। भाजपा के वे नेता और एमसीडी के अफसर, जिन्होने उनसे पैसे खाए और जिनके अधिकार क्षेत्र में सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जा हुआ, उनके घरों पर भी बुल्डोजर चलने चाहिए। उनके घरों को क्यों छोड़ा जा रहा है।

भाजपा से हमारा यह सवाल है कि १५ साल से भाजपा के राज के अंदर एमसीडी की नाक के नीचे अवैध कब्जे कैसे हो गए, आपने क्यों करने दिए। यह रातों-रात तो नहीं हो जाते हैं। कोई आदमी सरकारी जगह घेरता है, फिर छोटी दुकान बनाता है, फिर टपरी बनाता है, फिर पहली मंजिल बनाता है। फिर कई सालों के अंदर इसको तीन-चार मंजिल करता है। यह कैसे हो गया। क्या एमसीडी सो रही थी। क्या भाजपा के नेता सो रहे थे? नहीं, भाजपा के नेता पैसे खा रहे थे।