breaking news New

ब्रेकिंग : विधानसभा में पिटे विधायक, पुलिस ने खींचकर घसीटकर सदन से बाहर निकाला, विधायकों का आरोप कि पुलिस ने पिटाई की और महिला विधायकों को भी नही बख्शा, जानिए क्या है कारण इस विवाद के!

ब्रेकिंग : विधानसभा में पिटे विधायक, पुलिस ने खींचकर घसीटकर सदन से बाहर निकाला, विधायकों का आरोप कि पुलिस ने पिटाई की और महिला विधायकों को भी नही बख्शा, जानिए क्या है कारण इस विवाद के!
अनिल द्विवेदी

पटना. बिहार विधानसभा में आज राजद और विपक्ष के विधायकों ने जोरदार हंगामा मचाया. हालात इतने बिगड़े कि असेंबली में पुलिस को बुलाना पड़ा. जिसके बाद उपद्रव कर रहे विधायकों को पुलिस ने बाहर निकालना चाहा. वीडियो में देख सकते हैं कि विधायकों को उठाकर बाहर फेंका गया. इससे कुछ विधायक घायल हुए हैं जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भेजा गया.

सूत्रों के मुताबिक हालात तब बिगड़े जब आज विधानसभा में विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक, 2021 पेश किया गया. इसका विरोध राजद और विपक्षी विधायक करने लगे. उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष की आसंदी पर जाकर उत्पात मचाना प्रारंभ किया और फिर दोनों तरफ के विधायक उलझ गए.

महिला सुरक्षाकर्मियों द्वारा विधानसभा भवन के बाहर विपक्ष की महिला विधायकों बाहर किया गया. वे (विधायक) विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा को अपने कक्ष से बाहर जाने की अनुमति देने से इनकार कर रही थी. विपक्ष का आरोप है कि पुलिस ने विधायकों को इस तरह घसीटा, पीटा मानो जैसे वे गुण्डे हों. इस अवसर पर शहर के एसपी भी मौजूद थे. पुलिस एक जनप्रतिनिधि की इस तरह पिटाई कैसे कर सकती है.

बताया जाता है कि एंटी रायट बटालियन ने शारीरिक रूप से विधायकों को बाहर करने का आह्वान किया जो बिल के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे. आरोप है कि विधायकों को विधानसभा में पुलिस ने पीटा.

दूसरी ओर सडक पर राजद नेता और कार्यकर्ता बिगड़ती कानून व्यवस्था, भ्रष्टाचार, बेरोजगारी और आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे।

बिहार के विधायक सत्येंद्र कुमार कहते हैं, "पुलिस ने मुझे अपनी छाती पर मारा है। यह लोकतंत्र की हत्या है।" खबर लिखे जाने तक हंगामा जारी है.

See video :

See video :