breaking news New

80 प्रतिशत तक हवा को साफ कर रहा है स्मॉग टावर

 80 प्रतिशत तक हवा को साफ कर रहा है स्मॉग टावर

नयी दिल्ली।  दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने शुक्रवार को स्मॉग टावर की प्राथमिक रिपोर्ट जारी करते हुए कहा कि यह टावर 80 प्रतिशत तक हवा को साफ कर रहा है।

श्री राय ने कनॉट प्लेस स्थित स्मॉग टावर का दौरा किया। इसके बाद केजरीवाल सरकार की तरफ से लगाए गए स्मॉग टावर की प्राथमिक रिपोर्ट आज जारी की गई। जिसमें खुलासा हुआ है कि स्मॉग टावर 80 प्रतिशत तक हवा को साफ कर रहा है। इस दौरान श्री राय ने बताया कि केजरीवाल सरकार ने स्मॉग टावर की क्लोज मॉनिटरिंग करने के लिए आज 16 सदस्यीय कमेटी गठित की है। स्मॉग टावर को लेकर गठित कमेटी तीन-तीन महीने के अंतराल पर कुल तीन रिपोर्ट सरकार को देगी। जिसके आधार पर सरकार दूसरी जगहों पर स्मॉग टावर लगाने का निर्णय लेगी।

श्री राय ने यहाँ कनॉट प्लेस स्थित स्मॉग टावर का दौरा कर कहा कि दिल्ली सरकार की तरफ से पहले स्मॉग टावर का उद्घाटन 23 अगस्त को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किया था। उसके बाद इसका पायलट आधार पर ट्रायल कर रहे थे। अब इसका ट्रायल पूरा हो गया है। यह स्मॉग टावर आज से फुल क्षमता के साथ शुरू कर दिया गया है। इस स्मॉग टावर में लगभग दस हजार फिल्टर लगाए गए हैं जो प्रदूषित हवा को साफ करते हैं। इसमें 40 पंखे लगाए गए हैं और 1 किलोमीटर के आसपास के क्षेत्र की हवा को साफ करते है। यह लगभग पर 1000 घन मीटर प्रति सेकंड के हिसाब से हवा को प्यूरिफई करके वातावरण में छोड़ेगा। जिसे मॉनिटर करने के लिए कई सेंसर्स लगाए गए हैं।

उन्होंने बताया कि हवा जो ऊपर से आती है उसमें कितना पीएम 2.5 और पीएम 10 है, यह सेंसर्स बताते हैं। इसके अलावा हवा साफ होने के बाद निकलती है उसमें भी सेंसर लगाए गए हैं। सुबह से अभी तक की रिपोर्ट आयी है। सुबह करीब 8 बजे के आसपास पीएम 2.5 का स्तर 151 था जो प्यूरिफाई होने के बाद 38 हो गया था। इसके अलावा पीएम 10 का स्तर 166 था जो कि प्यूरिफाई होने के बाद 41 हो गया। उसी तरह से अभी दोपहर 12.45 पर पीएम 2.5 का स्तर 60 था जो कि 14 हो गया है और पीएम 10 का स्तर 63 था जो कि 15 हो गया है।

उन्हाेंंने बताया कि आज की प्राथमिक रिपोर्ट में सामने आया है कि स्मॉग टावर 80 प्रतिशत तक हवा को साफ कर रहा है। आज 16 सदस्य मॉनिटरिंग कमेटी बनाई गई है जिसमें 5 सदस्य दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल कमेटी (डीपीसीसी) के होंगे और इसके प्रमुख डॉ. मोहन जॉर्ज होंगे। इसके अलावा आईआईटी बॉम्बे की 5 सदस्यीय टीम होगी, जिसके प्रमुख प्रोफेसर मनमोहन साहू नेतृत्व करेंगे। एमबीसीसी के 3 सदस्य होंगे, जिनको संजय गुप्ता नेतृत्व करेंगे। साथ ही टाटा प्रोजेक्ट लिमिटेड के तीन सदस्य कमेटी में शामिल होंगे, जिसका प्रमुख आशीष अग्रवाल को बनाया गया है।

उन्होंने कहा कि इस तरह से 16 सदस्य टीम बनाई गई है जो आज से स्मॉग टावर की क्लोज मॉनिटरिंग करेगी। यहां पर एक स्क्रीन लगाई गई है जिस पर रियल टाइम कोई भी देख सकता है कि इस समय हवा की क्या स्थिति है। यह टीम 3 महीने के अंदर अपनी प्राथमिक रिपोर्ट सरकार को देगी। इसके 3 महीने बाद सेकेंड्री रिपोर्ट आएगी और उसके बाद थर्ड रिपोर्ट आएगी। इस रिपोर्ट का एनालिसिस करके सरकार निर्णय लेगी कि दूसरी जगहों पर कितने स्मॉग टावर लगाने की जरूरत है और इसका क्या प्रभाव पड़ रहा है।