बीजापुर में नक्सलियों ने की सहायक आरक्षक की हत्या, मुखबिरी का आरोप

बीजापुर में नक्सलियों ने की सहायक आरक्षक की हत्या, मुखबिरी का आरोप

बीजापुर, 16 अप्रैल। छत्तीसगढ़ के नक्सलगढ़ बीजापुर में नक्सलियों ने एक युवक पर पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर हत्या कर दी है। मृतक सहायक आरक्षक था। पुलिस के अनुसार नक्सलियों ने सहायक आरक्षक कुरसम रमेश की धारदार हथियार से हत्या कर दी है। शव को फरसेगढ़ थाना क्षेत्र में सड़क पर ही फेंक दिया। शव के साथ ही नक्सलियों ने एक पर्चा भी फेंका है, जिसमें हत्या की जिम्मेदारी नेशनल पार्क एरिया कमेटी द्वारा लेना लिखा गया है। पर्चे में सहायक आरक्षक पर ग्रामीणों को परेशान करने का आरोप भी लगाया गया है। पुलिस ने शव बरामद कर हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

कुरसम रमेश साल 2006 में सलावा जुडूम अभियान का हिस्सा था और एसपीओ बनकर काम कर रहा था। सलावा जुडूम पर कोर्ट की रोक के बाद उसे सहायक आरक्षक बनाया गया था। नक्सलियों के हमले से पहले भी बाल-बाल बचा था। 

ग्रामीणों के अनुसार आरक्षक पर नक्सलियों ने पहले भी हमला किया था, तब वह बाल-बाल बच निकला था। इस बार नक्सलियों ने उसका अपहरण कर धारदार हथियार से हत्या कर दी। माओवादियों ने जवान पर ग्रामीणों का पैसा, बकरा, मुर्गा लूटने के साथ मारपीट करने का भी आरोप लगाया है। इस वजह से उसे सजा देने का उल्लेख पर्चा में किया है।