breaking news New

ये है जिंदगी : 15 नक्सली जोड़े वैवाहिक बंधन में बंधे, बारात में शामिल हुए दंतेवाड़ा पुलिस के जवान, सरेंडर कर चुके नक्सली बिताना चाहते हैं सामाजिक जीवन

ये है जिंदगी : 15 नक्सली जोड़े वैवाहिक बंधन में बंधे, बारात में शामिल हुए दंतेवाड़ा पुलिस के जवान, सरेंडर कर चुके नक्सली बिताना चाहते हैं सामाजिक जीवन

बस्तर के दंतेवाड़ा में पुलिस विभाग ने आज आत्मसमर्पत हुए 15 नक्सली जोड़ों की शादी कराई जिसके बाद वे विवाह बंधन में बंध गए. बाराती के तौर पर दंतेवाड़ा पुलिस के अधिकारी और जवान शामिल हुए. शादी समारोह का आयोजन आदिवासी संस्कृति और परंपरा के अनुसार संपन्न हुआ.

सूत्रों ने बताया कि कल वैलेंटाइन डे के दिन सामूहिक विवाह आयोजित किया गया जिसमें आत्मसमर्पण कर चुके 15 नक्सलियों ने एक—दूसरे को अपना जीवन साथी बना लिया. पुलिस अधीक्षक (एसपी) अभिषेक पल्लव के अनुसार "इनमें से कई ऐसे थे जिन्हें उस समय प्यार हो गया था जब वे नक्सल संगठन का हिस्सा थे, लेकिन उन्हें शादी करने की अनुमति नहीं थी।"

पल्लव ने कहा, "दंतेवाड़ा पुलिस एक घर वापसी अभियान चला रही है, जिसके तहत बीते छहम महीने में लगभग 300 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है।' इस समारोह ने हिंसा और भय पर प्यार की जीत को चिह्नित किया है।

जंगली जीवन छोड़कर सामाजिक जीवन में आए दंपत्तियों में से एक, पूर्व नक्सली ने बताया, जंगल में नक्सली संगठन में रहते हुए एक साल पहले हम दोनों को प्यार हो गया था. मेरे सिर पर 5 लाख रुपये का इनाम था, जबकि मेरी पत्नी पर 1 लाख रुपये का. हम दोनों शादी करना चाहते थे, लेकिन हमें ऐसा करने से रोक दिया गया था. हमें बच्चे पैदा करने की भी अनुमति नहीं थी, इसलिए हमने आत्मसमर्पण कर सामाजिक जीवन बिताने का फैसला किया. हम दंतेवाड़ा पुलिस के शुक्रगुजार हैं.

दंतेवाड़ा पुलिस ने कहा कि यह समारोह आत्मसमर्पित नक्सलियों के परिवार के सदस्यों, पुलिस अधिकारियों, सैनिकों और अन्य आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों की उपस्थिति में आयोजित किया गया था.