breaking news New

कोरोना रोकथाम के लिए जागरूकता फैलाने में पत्रकारिता विश्वविद्यालय ने निभाई अहम भूमिका

कोरोना रोकथाम के लिए जागरूकता फैलाने में पत्रकारिता विश्वविद्यालय ने निभाई अहम भूमिका

रायपुर । कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय के जनसंचार एवं समाज कार्य विभाग द्वारा कोविड -19 से बचाव, रोकथाम तथा जन-जागरुक करने के उद्देश्य से विद्यार्थियों एवं शिक्षकों के सहयोग से सोशल मीडिया के जरिए जागरूकता संदेश देने हेतु वर्चुअल मीट का आयोजन किया गया। जिसमें विद्यार्थियों द्वारा निर्मित लगभग 70 वीडियो क्लिप्स, कविताएं, पोस्टर इत्यादि का प्रस्तुतीकरण किया गया । इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर बल्देव भाई शर्मा मौजूद रहे उन्होंने कहा कि पत्रकारिता के विद्यार्थी होने के नाते आप सबकी जिम्मेदारी समाज के प्रति अधिक है, क्योंकि समाज पत्रकार को सजग व्यक्ति मानता है। आप सबका सामाजिक दायित्व है कि आप सब इस महामारी में जनकल्याण और लोकजागरण लाने का कार्य करें। जिसका निराकरण आप लोग बखूबी से कर रहें हैं। पत्रकारिता के सूत्रों पर चर्चा करते हुए मानवीय संवेदना का उदाहरण भी प्रस्तुत किया जिसमें उन्होंने कहा कि पत्रकार निराश, उदासी, भय आदि परिस्थितियों में भी समाज को इससे मुक्त करने का प्रयास करता है। यही मानवियता पत्रकारिता का मूल आधार है जिसकी झलक हिंदी के प्रथम समाचार पत्र 'उदन्त मार्तण्डÓ के संपादक पंडित युगल किशोर शुक्ल की लेखनी में देखी जा सकती है। साथ ही विद्यार्थियों को आगामी सेमेस्टर परीक्षाओं के लिए अपनी शुभकामनाएं भी प्रेषित की। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय कुलसचिव डॉ. आनंद शंकर ने भी अपना वक्तव्य रखा उन्होंने कहा कि कोरोना जैसी महामारी मानवता इतिहास में कभी नहीं आई है।

यह गंभीर चिंता की बात है कि जिस पर सही रूप से विचार विमर्श करने की आवश्यकता है। वहीं इससे संबंधित अन्य फोरम में जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है। पत्रकारिता का दायित्व इन क्षेत्रों में सबसे अधिक होता है। कोरोना रोकथाम के संदर्भ में जागरूकता फैलाने में पत्रकारिता विश्वविद्यालय ने अपनी अहम भूमिका निभाई है।
उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ की राज्यपाल एवं विश्वविद्यालय की कुलाधिपति सुश्री अनुसुईया उइके जी ने सभी विश्वविद्यालयों को पत्र जारी कर कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से बचाव के लिए छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों के माध्यम से आमजनों को जागरूक करने के कार्यक्रम चलाये जिसके तहत यह कार्यक्रम आयोजित किया गया।वर्चुअल अभियान के कार्यक्रम की अध्यक्षता जनसंचार और समाज कार्य के विभागाध्यक्ष डॉ. शाहिद अली द्वारा की गई। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि विभाग द्वारा कोविड -19 से बचाव, रोकथाम तथा जन-जागरुकता अभियान के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है जो जारी रहेगा।

साथ ही सभी छात्र-छात्राओं को इस कार्यक्रम की सफलता के लिए बधाई दी और भविष्य में इसी तरह के अन्य कार्यक्रम आयोजित किये जाने की बात रखी ।  कार्यक्रम के अंत में जनसंचार विभाग के सहायक प्राध्यापक डा. राजेंद्र मोहंती ने कार्यक्रम की सफलता के लिए आये हुए सभी अतिथि वक्तायों तथा कार्यक्रम में उपस्थित सभी जन का आभार व्यक्त किया। जनसंचार और समाजकार्य के सभी छात्र-छात्राओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज की। साथ ही अतिथि प्राध्यापक अभिषेक गोस्वामी, रूखसार परवीन, रितू लता तारक, भारती गजपाल, विनोद सावंत भी मौजूद रहे।