breaking news New

एनएसयूआई ने मुख्यमंत्री एवं उच्च शिक्षा मंत्री के नाम विधायक चंदन कश्यप को सौंपा ज्ञापन

 एनएसयूआई ने मुख्यमंत्री एवं उच्च शिक्षा मंत्री के नाम विधायक चंदन कश्यप को सौंपा ज्ञापन

 

जगदलपुर।  बुधवार को एनएसयूआई ब्लॉक भानपुरी के पदाधिकारियों ने शासकीय महाविद्यालय भानपुरी के विभिन्न समस्याओं को लेकर स्थानीय विधायक एवं छतीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष (राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त) को मिलकर चर्चा किया एवं मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ शासन मा. श्रीं भूपेश बघेल जी एवं उच्च शिक्षा मंत्री मा. श्रीं उमेश पटेल जी के नाम ज्ञापन सौंपा।

एनएसयूआई के पदाधिकारियों ने बताया कि बस्तर ब्लॉक अंतर्गत एकमात्र शासकीय महाविद्यालय बेसोली मे संचालित है जिसकी स्थापना सन् 2008-09 को हुई थी जिसमें कुल 23 पद स्वीकृत किए गए थे,जिनमे प्राचार्य(1) ,प्राध्यापक (2)(समाज शास्त्र, रसायन शास्त्र) ,सहायक प्राध्यापक(10):: (हिन्दी, समाजशास्त्र, राजनीति, अंग्रेजी, रसायनशास्त्र, प्राणी विज्ञान, वनस्पति, वाणिज्य, गणित, भौतिक) सहायक ग्रेड - 01, 02, 03,सहायक ग्रेड - 03 संविदा, प्रयोगशाला तकनीक   (3),प्रयोगशाला परि (1)एवं भृत्य (2)  पद  स्वीकृत हुए थे लेकिन वर्तमान मे सहायक प्राध्यापक (2)(हिन्दी) (समाज शास्त्र), प्रयोगशाला तकनीक (2) एवं भृत्य (2) कुल 6 पद ही भरे है।

क्षेत्र का एकमात्र महाविद्यालय एवं आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र मे होने के वज़ह से प्रतिवर्ष यहा 500-600 विद्यार्थी अध्ययन करते है। बस्तर विकास खंड एक आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र है जंहा आदिवासी समुदाय के लोग अधिक संख्या मे निवासरत है जिनकी आय का मुख्य स्रोत कृषि है जिस वज़ह से अधिकांश विद्यार्थी नजदीक का महाविद्यालय मे बिना किसी परेशानी के पढ़ना चाहते है लेकिन शिक्षको के कमी की वज़ह से प्रतिवर्ष अध्यापन कार्य विलम्ब से प्रारम्भ होता है, अतिथि शिक्षको की भर्ती तो होता है लेकिन विलम्ब से जिसका खामियाजा विद्यार्थियों को भुगतना पड़ता है। साथ ही अधिकांश विद्यार्थी अपने नजदीकी महाविद्यालय मे छात्रावास मे रहकर पढ़ाई करना चाहते है किन्तु नजदीक मे छात्रावास ना होने की वजह से अपने घरों से दूर जगदलपुर, कोण्डागांव, दंतेवाड़ा एवं अन्य जगहों पर अध्ययन करने को मजबूर है


इससे उनको काफी तकलीफ होती है जिस वज़ह से बहुत से विद्यार्थी 12 वी के बाद अपनी पढ़ाई छोड़ देते है।लेकिन यहा की समस्याओं को पूर्व जनप्रतिनिधियों ने ध्यान तक नहीं दिया जबकि महाविद्यालय पूर्व मंत्री केदार कश्यप एवं पूर्व सांसद दिनेश कश्यप का गृह ग्राम है। उन्होंने कहा कि हमे पूर्ण विश्वास है कि  मुख्यमंत्री जी हमेशा से छात्रहित मे निर्णय लेते है हमारी माँगों को सुनेंगे और जल्द ही छात्रहित मे फैसला लेते हुए हमारी माँगों को पूर्ण करेंगे।


इस दौरान ब्लॉक अध्यक्ष यशवंत मौर्य, एनएसयूआई प्रदेश सह समन्वयक एवं नारायणपुर विधायक सोशल मीडिया प्रतिनिधि भुवनेश्वर बघेल ब्लॉक महासचिव एवं विधायक सोशल मीडिया प्रतिनिधि धर्मा पाढ़ी, उपाध्यक्ष ओमकार यादव छोटू, त्रिलोक कश्यप।