breaking news New

जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा अब 31 जुलाई तक

जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा अब 31 जुलाई तक

 स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देशानुसार प्रदेश में 31 तक मनेगा पखवाड़ा
राजनांदगांव। परिवार नियोजन के स्थाई साधन नसबंदी को लेकर जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा अब 31 जुलाई तक मनाया जाएगा। कोविड महामारी की विषम परिस्थितियों में अधिक से अधिक लोगों को परिवार नियोजन का लाभ मिले, इसे देखते हुए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, भारत सरकार की ओर से राज्यों को 31 जुलाई तक उक्त पखवाड़ा मनाने का निर्देश दिया गया है।
इससे पूर्व 11 जुलाई से 24 जुलाई तक परिवार नियोजन के स्थाई साधन नसबंदी को लेकर जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़े का दूसरा चरण आयोजित किया जाना था। इसके अंतर्गत पंजीकृत इच्छुक लाभार्थियों (महिला-पुरुष) की जिला अस्पताल एवं स्वास्थ्य केन्द्रों में नसबंदी की सुविधा दी जा रही थी। निर्देश के बाद अब 31 जुलाई तक उक्त सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा परिवार नियोजित रखने के अस्थाई साधनों जैसे-कंडोम, माला एन, अंतरा इंजेक्शन और छाया टेबलेट को अपनाने के बारे में भी लोगों को जागरूक किया जाएगा।
वर्तमान समय में कोविड महामारी का प्रभाव है, जिसको ध्यान में रखते हुए मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए के लिए इस वर्ष जनसंख्या स्थिरीकरण के लिए कई तरह की गतिविधियां की जा रही हैं। यह आयोजन दो चरणों में संचालित हो रहा है। पहला चरण 27 जून से 10 जुलाई तक दंपत्ति संपर्क पखवाड़े के रूप में मनाया गया। जिसमें परिवार नियोजन के महत्त्व के बारे में गांवों में जागरूकता का प्रयास किया गया। इसी तरह दूसरा चरण 11 से 24 जुलाई तक जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा के रूप में मनाया जाना था, जिसे अब जुलाई अंत यानि 31 जुलाई तक मनाया जाएगा। इस पूरे पखवाड़े में परिवार नियोजन सेवा अंतर्गत गर्भ निरोधकों के अस्थायी और स्थायी दोनों ही साधनों की की सेवा हितग्राहियों को प्रदान की जाएगी, अस्थायी सुविधा हेतु सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में कंडोम बॉक्स की रिफिलिंग, ओसीपी के अतिरिक्त पैकेट हितग्राही वितरण शामिल है। इसके साथ ही पीपीआईयूसीडी की व्यवस्था शामिल है।