कोरोना के कहर से निजी अस्पतालों की ओपीडी बुरी तरह प्रभावित

कोरोना  के कहर से  निजी अस्पतालों की ओपीडी बुरी तरह प्रभावित


रायपुर। पुरे विश्व में  कोरोना के संक्रमण से हाहाकार मचा हुआ है।  इस वायरस के चलते लागू  लॉक डाउन में  निजी प्रेक्टिस करने वाले डाक्टरों के क्लिनिक व् निजी नर्सिंग होम में नियमित ओपीडी बुरी तरह से प्रभावित हुई है। डाक्टर मुश्किल से  30 फीसदी मरीजों को ही  देख पा रहे है।  

कोरोना संक्रमण  के खतरे और दूसरी समस्याओ को देखते केवल उन्हीं मरीजों को अस्पताल बुलाया जा रहा है। जिनकी जाँच किये बिना दवा देने में जोखिम है।

राजधानी में करीब 150  नर्सिंग होम है। राजधानी में राज्य के अन्य हिस्से से 50  हजार के आसपास मरीज इलाज या जाँच के लिए रायपुर आते है। सोमवार को स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव और स्वास्थ्य सचिव निहारिका बारीक़ से इंडियन मेडिकल एसोशियन आईएमए के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की। डाक्टरों का कहना है कि मरीजों की जाँच के समय जरुरी सुरक्षात्मक उपकरण जैसे मास्क और पर्सनल प्रोटेक्शन किट की उपलब्धता में कमी है।  

chandra shekhar