breaking news New

स्ट्रोक की रोकथाम व नियंत्रण के लिए जन-जागरुकता की व्यापक पहल

स्ट्रोक की रोकथाम व नियंत्रण के लिए जन-जागरुकता की व्यापक पहल

कैंसर मरीजों को चिन्हित करने निशुल्क कैंसर स्क्रीनिंग शिविर 28 को 

जांच कराने की अपील : संभावित कैंसर मरीजों को समुचित उपचार के लिए किया जाएगा चिन्हित

राजनांदगांव। कैंसर, मधुमेह, हृदय रोग और स्ट्रोक की रोकथाम व नियंत्रण के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम (एनपीसीडीसीएस) के अंतर्गत स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के द्वारा जन-जागरुकता की व्यापक पहल की जा रही है। इसी कड़ी में जिले में 28 सितंबर को निःशुल्क कैंसर जांच शिविर आयोजित किया जाएगा जिसमें संभावित कैंसर मरीजों की जांच की जाएगी तथा आवश्यक परामर्श दिया जाएगा। इस विशेष शिविर में कैंसर विशेषज्ञ डॉ. दिनेश पेंडाकर आनकोलॉजिस्ट दिल्ली एवं डॉ. सीएम त्रिपाठी कीमोथेरेपी नोडल अधिकारी उज्जैन (मध्यप्रदेश) तकनीकी विशेषज्ञ के रूप में उपस्थित रहकर अपनी सेवाएं देंगे। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र लखोली में यह शिविर सुबह 9 बजे से आयोजित किया जाएगा। 

कैंसर शिविर के संबंध में संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं छत्तीसगढ़ द्वारा संबंधित जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देशित किया जा चुका है जिसके अनुसार निशुल्क कैंसर स्क्रीनिंग शिविर के बारे में लोगों को जानकारी प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाएगा, ताकि अधिक से अधिक लोग इन शिविरों में अपनी जांच करा कर लाभान्वित हो सकें। वहीं कैंसर कैंप के उद्देश्यों की पूर्ति के लिए राजनांदगांव के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के द्वारा भी जिले के सभी खंड चिकित्सा अधिकारी व मितानिन कार्यक्रम के सभी जिला समन्वयकों को पत्र जारी कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं। पत्र में कहा गया है कि हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर एवं अन्य स्वास्थ्य संस्थाओं में आशंकित कैंसर मरीजों की सूची बनाई जाए तथा विशेष कैंसर शिविर का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। साथ ही संभावित कैंसर मरीजों को जांच व परामर्श हेतु शिविर में लाएं। इसी कड़ी में 28 सितंबर को शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र लखोली में सुबह 9 बजे से कैंसर शिविर लगाया जाएगा। 

कैंसर एक ऐसी बीमारी है, जिसका यदि समय पर पता चल जाए तो इसकी गंभीरता को कम किया जा सकता है और इस बीमारी से लोगों की जान बचाई जा सकती है। इसी क्रम में जिला मुख्यालय में 28 सितंबर को कैंसर के संभावित रोगियों की जांच कर उन्हें चिन्हित किया जाएगा, ताकि उनका समुचित उपचार किया जा सके। ऐसे लोग जिनमें कैंसर के लक्षण हैं या उन्हें यह संदेह है कि यह कैंसर हो सकता है, उनसे अपील की जा रही है कि निर्धारित तिथि व समय पर आयोजित शिविर में वह अपनी जांच करा सकते हैं। 

इस संबंध में राजनांदगांव के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. मिथिलेश चौधरी ने बताया, लोगों को कैंसर स्क्रीनिंग शिविर का लाभ दिलाने के लिए हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर एवं अन्य स्वास्थ्य केन्द्रों पर कैंसर के संभावित मरीजों की सूची तैयार की जाएगी ताकि निर्धारित तिथि पर शिविर में विशेषज्ञों द्वारा संभावित मरीजों की जांच कराई जा सके और उनको समुचित उपचार मिल सके। इसके अतिरिक्त लोग स्वयं भी जाकर शिविर में अपनी जांच करा सकते हैं। कैंसर स्क्रीनिंग शिविर का आयोजन कोविड-19 गाइडलाइंस का पालन करते हुए किया जाएगा।


स्तन कैंसर के लक्षण

० स्तनों के आकार में बदलाव

० स्तनाग्र पर या आसपास लाल दाग

० स्तनों में गांठ


मुंह के कैंसर के लक्षण

० मुंह में सफेद या लाल घाव

० मुंह खोलने में कठिनाई

० आवाज में परिवर्तन ;नाक के बल बोलनाद्ध

० किसी जगह त्वचा का कड़ा हो जाना