breaking news New

देश में कोरोना से बढ़ती मौतों से दहशत का माहौल

देश में कोरोना से बढ़ती मौतों से दहशत का माहौल

कोरोना को एक दिन में चार लाख से ज्यादा मरीजों ने दी मात
नई दिल्ली । देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के कोहराम में भले ही दैनिक मामलों में गिरावट आ रही हो, लेकिन एक दिन मौतों के बढ़ते आंकड़े को लेकर दहाशत का माहौल बना हुआ है। हालांकि सक्रीय मरीजों में भी गिरावट आ रही है और कोरोना से ठीक होने वालों में लगातार इजाफा हो रहा है। पिछले 24 घंटे में देश में चार लाख से ज्यादा कोरोना मरीज स्वस्थ्य हुए हैं, जो एक रिकार्ड है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मंगलवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में एक दिन में कोरोना के 2,63,533 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद देश में अब तक संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2,52,28,996 हो गई। वहीं एक दिन में 4,329 और लोगों की संक्रमण से मौत से दहशत और भय बना हुआ है। दैनिक मामलों में कमी के बावजूद मौतों के आंकड़े हरदिन बढ़ रहे हैं। अब तक देश में कोरोना संक्रमण के कारण हुई मौतों का आंकड़ा बढ़कर 2,78,719 हो गया है। पिछले करीब एक हफ्ते से देश में हर रोज कोरोना से 4 हजार से अधिक लोगों की मौत होने का सिलसिला जारी है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के नए मामलों में सबसे अधिक मामले पांच राज्यों में आए हैं, इनमें कर्नाटक में 38,603, तमिलनाडु में 33,075, महाराष्ट्र में 26,616, केरल में 21,402 तथा पश्चिम बंगाल में 19,003 मामले दर्ज किये गये। इन पांच राज्यों से लगभग 52.63 प्रतिशत नए मामले सामने आए हैं, जिनमें अकेले कर्नाटक 14.65 प्रतिशत नए मामलों के लिए जिम्मेदार है। जबकि पिछले 24 घंटों में कुल 4,329 लोगों की हुई मौतों में सबसे अधिक मौतें महाराष्ट्र (1000) में हुईं। जबकि कर्नाटक में 476 मौतें हुईं।
4.22 लाख ने दी कोरोना को मात
स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में एक बार फिर सक्रिय मामलों का ग्राफ नीचे आ रहा है। राहत की बात ये है कि पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 4,22,436 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट गए हैं। इसके साथ ही देश में अब तक 2,15,96,512  मरीज कोरोना वायरस को मात देने में कामयाब हुए हैं। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 85.60 प्रतिशत हो गई है। रोजाना के आधार पर दर्ज होने वाले नए कोरोना केसों की तुलना में ठीक होने वाले मरीजों संख्या करीब दो महीने बाद दोगुनी के करीब पहुंच गई है। फिलहाल, देश में 33,53,765  सक्रिय मामले हैं।
अब तक इतने नमूनों की हुई जांच
भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, देश में अभी तक कुल 31,82,92,881 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है। इनमें से 18,69,223 नमूनों की जांच सोमवार को की गई।
इलाज प्रोटोकॉल में शामिल होगी 2-डीजी दवा
नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वीके पॉल ने डीआरडीओ द्वारा विकसित की गई कोविड रोधी दवा 2-डीजी पर बात की। डॉ. पॉल ने कहा कि हम इस दवा को इलाज प्रोटोकॉल में शामिल करने के लिए कोविड-19 नेशनल टास्क फोर्स में इसका परीक्षण करेंगे। उन्होंने कहा कि भारत के औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने इस कोविड रोधी दवा के आपातकालीन इस्तेमाल की अनुमति दे दी है।