breaking news New

अस्तित्व बचाने के लिए संघर्ष कर रहे कांग्रेस को अब याद आ रहे किसान

अस्तित्व बचाने के लिए संघर्ष कर रहे कांग्रेस को अब याद आ रहे किसान

भोपाल।  भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने आज आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश में कांग्रेस नेता अपना अस्तित्व बचाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं और इसलिए उन्हें इतने दिनों बाद किसानों की याद आयी।

 शर्मा ने पार्टी की ओर से जारी विज्ञप्ति में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ की पत्रकार वार्ता के बाद कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री को भी अब किसानों का स्मरण हो रहा है। वे पहले तो किसान आंदोलनों के दौरान दिखायी नहीं देते थे। अब अस्तित्व बचाने के लिए  कमलनाथ किसानों की बात कर रहे हैं।

 शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश का किसान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ खडा है। किसान आंदोलन के नाम पर कांग्रेस सिर्फ अपनी राजनीति चमकाना चाहती है। उन्होंने कहा कि किसान नए केंद्रीय कानूनों को समर्थन देने लगे हैं, इसलिए कांग्रेस नेता घबड़ाए हुए हैं। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ भी छिंदवाड़ा में किसान सम्मेलन करवा रहे हैं।

 शर्मा ने बताया कि  कमलनाथ ने ही कहा था कि उन्होंने छिंदवाड़ा में सबसे पहले कांटेक्ट फार्मिंग शुरू की थी, लेकिन अब इसका विरोध किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के किसान और जनता  कमलनाथ और कांग्रेस की नीतियों काे समझ चुकी है और उनके बहकावे में आने वाली नहीं है।